मंजिल उन्हीं को मिलती है जिनके सपनों में जान होती है: अंबिकेश त्रिपाठी

0
614

मनीष अवस्थी


परों से कुछ नहीं होता हौसलों से उड़ान होती है

ऊँचाहार रायबरेली। हम बात कर रहे हैं अद्भुत अद्वितीय प्रतिभा के धनी कक्षा एक के छात्र 5 वर्षीय चित्रकार अंबिकेश त्रिपाठी की, भगवान विष्णु के भक्त श्री डॉक्टर दीपक त्रिपाठी जी के घर दौलतपुर ऊंचाहार रायबरेली में जन्मे अंबिकेश त्रिपाठी पर ईश्वर की बड़ी असीम कृपा है
यही कारण है कि मात्र 5 वर्ष की आयु में अपने हुनर के जोहर से अपने पिताजी के सभी मित्रों
रायबरेली जिला एसपी डीएम साहब सहित अंतर्राष्ट्रीय समाजसेविका शाहीन सैयद विश्व विख्यात डॉ मोहन राम जी समेत उत्तर प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव जी का आशीर्वाद प्राप्त कर चुके हैं
अंबिकेश के पिता डॉ दीपक त्रिपाठी जी बताते हैं
एक बार हमने अंबिकेश को भगवान श्री कृष्ण जी की छाया आकृति को बनाते हुए देखा तो हतप्रभ रह गयामाननीय मुख्यमंत्री दिल्ली प्रदेश श्री अरविंद केजरीवाल जी के जन्मदिन पर उनकी छाया आकृति को अपनी कला से प्रस्तुत कर उन्हें जन्मदिन की बधाई देने वाले मासूम बच्चे की कला के साथ मासूम सोच सबको असहज कर देती है

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.