भारतीय जनता पार्टी की सरकार द्वारा किसान कानून किसानों के लिए हितकारी नहीं है -अकेला

0
267

मनीष अवस्थी

बछरावां रायबरेली ।समाजवादी पार्टी द्वारा एक दिवसीय कार्यकर्ता सम्मेलन जिलेदार गेस्ट हाउस में आयोजित किया गया जिसमें कार्यकर्ता सम्मेलन को संबोधित करते हुए सपा के पूर्व विधायक रामलाल अकेला ने कहा कि भारतीय जनता पार्टी की सरकार में किसान , बेरोजगार , नौजवानों का हित संभव नहीं हैं। भारतीय जनता पार्टी की सरकार किसानों की हितैषी नहीं बल्कि किसानों के साथ अत्याचार कर रही है ।भारतीय जनता पार्टी द्वारा किसान कानून किसानों के लिए हितकारी नहीं है बल्कि किसानों के लिए मुसीबत का सबब है ।इस दौरान श्री अकेला ने कहा कि आगामी पंचायत चुनाव में कार्यकर्ता कड़ी मेहनत के साथ संयम बरतें हुए पंचायत चुनाव को आसानी से निपटाए। श्री अकेला ने पेट्रोल और डीजल के दामों की बढ़ोतरी को लेकर भारतीय जनता पार्टी की सरकार को आम जनमानस विरोधी बताते हुए कहां कि भारतीय जनता पार्टी की सरकार किसानों की हितैषी नहीं है ।इस मौके पर विधानसभा अध्यक्ष राकेश त्रिवेदी उर्फ आलू महाराज ने कहा कि आगामी 2022 में समाजवादी पार्टी की नीतियों को जन जन तक पहुंचाने का काम किया जाएगा और विधानसभा के चुनाव में आम जनमानस जिसका का मुंहतोड़ जवाब देगी। संबोधित करते हुए महिला सभा की अध्यक्ष श्रीमती शीला सिंह ने कहा कि भारतीय जनता पार्टी की सरकार में महिलाओं का उत्पीड़न लगातार जारी है ।बहू ,बेटियां भारतीय जनता पार्टी की सरकार में सुरक्षित नहीं है। सम्मेलन में ब्लाक प्रमुख विक्रांत अकेला ,प्रधान संघ अध्यक्ष राम बहादुर यादव, माताफेर सिंह ,उदय राज यादव ,निजामुद्दीन मंसूरी, शकील मंसूरी, कुंवर वीरभान सिंह द्वारा कार्यकर्ताओं को जोश भरने का काम किया गया। इस मौके पर महेंद्र यादव ,रन बहादुर सिंह ,रामपाल सिंह, शेखर चौधरी ,श्यामू जयसवाल ,अमरेंद्र चौधरी ,हीरालाल, राम लखन ,राजकुमार लोधी ,रामकिशन लोधी, शिव बरन चौधरी ,बाबू शुक्ला, हरिकरन सिंह, जमुना मिश्रा, बजरंग सिंह, सत्येंद्र श्रीवास्तव ,जगदीश त्रिपाठी, धीरज यादव, रईस अहमद, चंदन ,राम लखन यादव सहित बड़ी संख्या में समाजवादी पार्टी के कार्यकर्ताओं ने मुलायम सिंह जिंदाबाद ,अखिलेश यादव जिंदाबाद के नारे लगाकर समाजवादी पार्टी की नीतियों को जन-जन तक पहुंचाने की शपथ ली।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.