“अमेठी लाइव” की खबर का हुआ असर, सुनीता को मिली छत

0
481

बछरावा रायबरेली। (ऋषि मिश्रा) विकास क्षेत्र के अंतर्गत मलिक पुर सरैया गांव की रहने वाली सुनीता पत्नी स्वर्गीय अशोक कुमार लोधी का झोपड़ी नुमा आशियाना बीते कुछ दिन पूर्व आग की भेंट चढ़ कर खाक हो गया था। इस घटना को लेकर जब अमेठी लाइव न्यूज़ के माध्यम से खबर प्रकाशित की गई और खबर सोशल मीडिया पर फैली तो सुनीता के घर मदद करने के लिए क्षेत्र के समाजसेवियों का तांता लगना शुरू हो गया। इसी संबंध में जब यह खबर स्वयंवर उत्सव लॉन के संचालक व “हेल्पिंग हैंड्स बछरावां” के नाम से एक संगठन का संचालन कर रहे गौरव बाबा के पास पहुंची तो उन्होंने तत्काल मौके पर पहुंचकर पीड़िता सुनीता को कपड़े, गृहस्ती का सामान तो दिया ही और सुनीता के सिर पर छत देकर उसके बच्चों के भविष्य को संवारने का काम भी किया। इस संबंध में जब संवाददाता द्वारा बछरावां हेल्पिंग हैंड संगठन के संचालक गौरव बाबा से बातचीत की गई तो उन्होंने कहा कि हमारे संगठन का गठन विगत 6 से 7 माह पूर्व हुआ था तब से हमारी टीम के सभी सदस्य मुझको आगे कर लोगों की मदद कराने का सौभाग्य मुझे देते हैं। साथ ही साथ उन्होंने यह भी बताया कि आप जैसे निष्पक्ष पत्रकारों की लेखनी से समाज के अंदर घटित हो रही ऐसी घटनाओं की जानकारी हम तक पहुंचती है, तत्पश्चात हमारी पूरी टीम पीड़ित व्यक्ति की यथासंभव मदद करने का काम करती है। इस संबंध में पीड़िता सुनीता का कहना है कि मेरी मदद करने वाले सभी भाइयों बहनों का मैं शुक्रिया अदा करना चाहती हूं। और खासतौर पर गौरव बाबा भाई साहब का भी शुक्रिया अदा करना चाहती हूं कि उन्होंने मेरे बच्चों की और मेरी मदद करके मेरे बच्चों का भविष्य संवारने का काम किया है। गौरव बाबा की ऐसी अनूठी पहल देखकर यह कहना कतई गलत नहीं होगा कि समाज में हनुमान जी रूपी समाजसेवियों की कमी नहीं है बल्कि कोई जामवंत चाहिए जो उनकी कार्यक्षमता की याद दिलाते हुए उनको दूसरों की मदद करने के लिए सही रास्ता दिखाने का काम करें।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.