श्री राम जन्म से लेकर सीता स्वयंवर तक कथा का वर्णन

0
55

अमित मिश्रा संवाददाता।


(मनमोहक झांकियों के साथ कथा का वर्णन एवं महाराज के भजनों को सुन भक्त हुए भाव विभोर )


नगराम (लखनऊ) । मितौली गांव में चल रही सात दिवसीय भागवत कथा में पांचवे दिन शुक्रवार को श्री राम कथा सुनने को हजारों की संख्या में श्रद्धालु पहुंचे ।
पांचवे दिन शुक्रवार को श्री कृष्णानंद जी महाराज के प्रसंग में भगवान श्री राम के जन्म उत्सव से लेकर सीता स्वयंवर में मनमोहक झांकियों के साथ सचित्र वर्णन किया गया। जन्म उत्सव के दौरान अयोध्या नगरी दुल्हन की तरह सजाया गया , सभी देवी देवता राम जी के बाल रूप के दर्शन करने के लिए अयोध्या में पधारे और लोगों ने मंगल गीत गाये । अपने सुंदर भजनों से महाराज जी ने सभी भक्तों को झूमने के लिए मजबूर कर दिया । इसी दौरान ऋषि विश्वामित्र राम जी को अपने साथ सभी ऋषियों की राक्षसों से रक्षा के लिए अपने साथ वन ले गए । रास्ते में रामचंद्र जी ने राक्षसी का वध किया । अहिल्या को उनके श्राप से मुक्त किया । प्रसंग में भगवान राम एवं लक्ष्मण ऋषि विश्वामित्र जी के साथ जनकपुरी पहुंचे और वहां सीता स्वयंवर में श्रीराम ने शिव धनुष तोड़ा , सीता के साथ भगवान राम का विवाह हुआ । सभी भक्त राम विवाह के सुंदर प्रसंग पर झूम पड़े । हजारों भक्तों से भरा पूरा पंडाल सियाराम के जयकारों से गूंज उठा । कथा श्रवण में पहुंचे मोहनलालगंज विधानसभा क्षेत्र से आम आदमी पार्टी के प्रत्याशी सूरज कुमार ( प्रधान) ने कथा के अन्त में हजारों भक्तों को 101 दर्जन केले प्रसाद के रूप में वितरण कराया । कथा में वरिष्ठ पत्रकार पंडित उमेश शर्मा , आशीष यादव एवं मुकेश कुमार रहे मौजूद साथ में जिला पंचायत सदस्य शेखर यादव व देशराज आजाद , पवन वर्मा , विवेक कुमार , पप्पू रावत , संदीप , मो० कय्यूम सहित हजारों की संख्या में भक्तगण मौजूद रहें।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.