बुजुर्ग को पेंशन का लाभ दिलाने के लिये एसडीएम मोहनलालगंज ने शुरू की पहल———-

0
287

नीतिका द्विवेदी


मंगलवार को कर्मचारी भेजकर बुजुर्ग का लिया हाल
—एसडीएम की पहल के बाद बुजुर्ग को जगी आस


मोहनलालगंज। चौबीस साल की सेवा का लाभ पाने के लिए भटक रहे बुजुर्ग सेवानिवृत्त कर्मचारी को एसडीएम डॉ0 शुभी सिंह न्याय दिलाएंगी। न्याय के लिए सालों से बाबुओं के चक्कर लगाकर थक चुके बुजुर्ग को एसडीएम ने भरोसा दिया है। सेवा लाभ के लिए भटकते हुए आंखो की रोशनी खो चुके बुजुर्ग की आपबीती जानकर एसडीएम ने मंगलवार मातहतों से फाइल तलब कर पीड़ित के घर कर्मचारी को भेजकर प्राथना पत्र लिया।और फाइल को कलेक्ट्रेट भेजकर भुगतान की कार्रवाई शुरु करा दी है।

मोहनलालगंज कस्बा निवासी 80 वर्षीय हरीशंकर माली ने 29 अक्टूबर 1966 को मोहनलालगंज तहसील में राजस्व संग्रह अमीन की नौकरी शुरु की। 18 मई 1968 को विनियमितिकरण के बाद 31 अगस्त 1999 को वह सेवानिवृत्त हो गए। लेकिन चौबीस साल की सेवा का लाभ पाने के लिए वह कई वर्ष से तहसील और कलेक्ट्रेट में बाबुओं के चक्कर लगा रहे हैं। पैरवी में सालों गुजर गए लेकिन बाबू टरकाते रहे। अधिकारियों से शिकायत भी बेकार गई बाबुओं के आगे किसी की नहीं चली। हाई ब्लड प्रेशर और डायबिटीज की बीमारी ने अब उनकी आंखों की रोशनी भी धुंधली कर दी है। बिना सहारे के उनका कुछ कदम चल पाना भी मुमकिन नही रह गया है फिर भी न्याय के इंतजार में वह हर सप्ताह लोगों से मदद लेकर तहसील पहुंच जाते हैं। बुजुर्ग हरीशंकर के मुताबिक तहसील के बाबू कलेक्ट्रेट में सम्पर्क करने का कहकर पल्ला झाड़ ले रहे थे। जबकि कलेक्ट्रट के बाबुओं ने उनका फोन उठाना ही बन्द कर दिया है एक बाबू ने तो उनका मोबाइल नंबर ही ब्लाक कर दिया है। पूरे मामले की जानकारी मिलने के बाद एसडीएम ने बुजुर्ग की हरसंभव मदद के लिये कर्मचारी भेजकर हाल लिया और पेंशन का लाभ दिलाने की कार्यवाही शुरू कर दी है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.