कोरोना काल में साहब क़े बिगड़े बोल! प्रधान बगड़छुट, सचिव दस हाथ आगे

0
1019

अमित त्रिपाठी
महराजगंज रायबरेली। कोरोना जैसी महामारी में अधिकारी अपनी जिम्मेदारियों से मुकर दूसरे को नीचा दिखाने से बाज नही आ रहे इस आपसी मनमुटाव का खामियाजा क्षेत्रीय जनता को उठाना पड़ रहा ।
मामला हाट स्पाट पूरे विस्ताली मजरे सलेथू से जुड़ा है जहां 10 जून को कोरोना पाजिटिव मरीज मिला था, मरीज मिलने क़े दो दिन बीतने क़े बाद में गांव को सेनेटाईज नही कराया गया और ना ही जिम्मेदारो द्वारा गांव क़ी सुध ली गयी। मामले क़ी पड़ताल को जब एड़ीओ पंचायत जितेंद्र सिंह से बात क़ी गयी तो उनके बिगड़े बोल सुनने को मिले अपनी जिम्मेदारी समझने क़े बजाए उन्होने हाटस्पाट गांव क़े प्रधान को ही बगड़छुट व सचिव को प्रधान से दस हाथ आगे बताया। जिससें संक्रमण क़ी भयानकता को समझने क़े बजाए साहब जी क़ी निष्ठुरता व पदीय रूआब को भली भांति समझा जा सकता है इस दौरान अपने बड़बोलेपन में एडीओ पंचायत ने कहा क़ी हम अतिरिक्त प्रभारी है यह ब्लाक मेरे मन का नही, डीपीआरओ को यहां दूसरी व्यवस्था करने क़े लिए कह दिया है। वैसे एडीओ पंचायत जितेंद्र सिंह किसी ना किसी कृत्य को लेकर अक्सर क्षेत्र में चर्चा का विषय बने रहते है किन्तु कोरोना संक्रमण और हाटस्पाट जैसे संजीदा विषय पर भी साहब क़ी लापरवाही जनता पर किसी दिन भारी पड़ सकती है। जिसको लेकर लोगो में रोष देखने को मिल रहा। वही मामले में प्रधान जयप्रकाश साहू ने बताया क़ी हाट स्पाट सहित अगल बगल क़े गांवों को फागिग मशीन से सेनेटाईज कराया जा रहा।

फिलहाल अमेठी लाइव ऑडियो की पुष्टि नहीं करता है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.