लालगंज रजबहा व वाजिदपुर माइनर में पानी न आने से नाराज किसानों ने खोला मोर्चा

0
123

धान की रोपाई से वंचित किसानों ने सिंचाई विभाग के अधिकारियों को दिया अल्टीमेटम

शिवगढ़,रायबरेली। (अंगद राही) शिवगढ़ क्षेत्र के लालगंज रजबहा व वाजिदपुर माइनर में महीनों से पानी न आने से सिंचाई विभाग के प्रति किसानों में गहरा रोष व्याप्त है। आक्रोषित किसानों ने सिंचाई विभाग के खिलाफ नारेबाजी करते हुए जमकर विरोध प्रदर्शन किया। गौरतलब हो कि शिवगढ़ क्षेत्र के लालगंज रजबहा व वाजिदपुर माइनर में महीनों से पानी ना आने से नाराज किसानों ने शनिवार को बहुदाकला चौराहे पर स्थित सार्वजनिक शौचालय के पास ग्राम प्रधान एवं अखिल भारतीय पंचायत परिषद उत्तर प्रदेश अराजनैतिक के शिवगढ़ ब्लॉक अध्यक्ष अनिल कुमार वर्मा के नेतृत्व में दर्जनों की संख्या में इकट्ठे होकर सिंचाई विभाग के खिलाफ नारेबाजी करते हुए मोर्चा खोल दिया। आक्रोशित किसानों का कहना है कि लालगंज रजबहा व वाजिदपुर माइनर में सालों से न तो मानक के अनुरुप सफाई हुई है और न ही अप्रैल माह से पानी आ रहा है। नहर में पानी न आने से किसानों को धान की बेढ़़न बचाने के लिए पंपिंग सेट अथवा इंजन का सहारा लेना पड़ रहा है। किसानों की मानें तो गेहूं की फसल के समय भी चंदा लगाकर नहर की सफाई कराई गई थी। तब जाकर थोड़ा बहुत पानी आया था, लेकिन इस बार तो रजबहा व माइनर में बड़ी-बड़ी झाड़ियां खड़ी हैं। धान की रोपाई के समय रजबहा और माइनर में पानी की एक बूंद भी नहीं आ रही है, ऐसे में किसान कैसे धान की रोपाई करें। रजबहा व माइनर में पानी न आने से सूखे पड़े हजारों एकड़ खेतों में अभी तक धान की रोपाई नहीं हो पायी है। डीजल महंगा होने के कारण किसान बारिश की आस लगाए बैठे हैं किन्तु बरसात भी नहीं हो रही है, ऐसा लगता है मानों किसानों से इंद्र देवता रूठ गए हों। ग्राम प्रधान अनिल वर्मा, कृषक जयनारायण, प्रदीप कुमार, रज्जन लाल, राकेश, भगवती प्रसाद ,अरविंद, रामकुमार ,साहबदीन, लालता प्रसाद, रामकैलाश, राकेश वर्मा सहित भारी संख्या में मौजूद किसानों ने सिंचाई विभाग के खिलाफ जमकर नारेबाजी की। किसानों का कहना है कि जल्द ही रजबहा और माइनर में पानी नहीं आया तो किसान आंदोलन के लिए मजबूर हो जायेंगे। इस बाबत जब जेई महेश चंद्र से बातचीत की गई तो उन्होंने कहा लालगंज रजबहा व वाजिदपुर माइनर में कई जगह बंधे लगे हैं इन बंदों को हटवा कर टेल तक पानी पहुंचाया जायेगा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.