रायबरेली: शराब माफियाओं द्वारा पुलिस टीम पर हमले के बाद एसडीएम सदर ,आबकारी निरीक्षक व सीओ सिटी ने की ताबड़तोड़ छापेमारी…

0
346

मनीष अवस्थी

रायबरेली। प्रदेश में शराब पीने से हुई मौतों के बाद पुलिस प्रशासन के साथ आबकारी विभाग भी पूरी तरह सक्रिय हो चुका है। इसी को देखते हुए रायबरेली उप जिलाधिकारी सदर अंशिका दीक्षित ने पुलिस व आबकारी टीम के साथ छापेमारी शुरू की जिसमें लगभग एक हजार कुंतल लहन नष्ट हुई तो वहीं सैकड़ों लीटर कच्ची शराब बरामद कर दो लोगों को गिरफ्तार किया गया। शहर कोतवाली क्षेत्र के अहिया रायपुर गांव में छापेमारी की गई तो वही मॉडल शापों का भी निरीक्षण कर कार्यवाही की गई।शहर कोतवाली क्षेत्र अहियारायपुर गांव में उप जिलाधिकारी सदर अंशिका दीक्षित, आबकारी निरीक्षक अजय कुमार व सीओ सिटी महिपाल पाठक की टीम ने छापेमारी की जहां घरों से कच्ची शराब बनाने में प्रयुक्त होने वाली लगभग एक हजार कुंतल लहन बरामद कर नष्ट किया गया वही 50 से 60 लीटर कच्ची शराब भी मौके से बरामद की गई। टीम की छापेमारी में दो लोगों को मौके से गिरफ्तार किया गया बाकी अन्य लोग फरार हो गए ।फरार लोगों की गिरफ्तारी के लिए टीमें बना दी गई हैं जल्द ही उनकी गिरफ्तारी की भी बात कही जा रही है ।वहीं दूसरी तरफ शहरी क्षेत्रों में बने मॉडल शापों के साथ-साथ शराब की दुकानों का भी निरीक्षण किया गया। अनियमितता मिलने पर रतापुर स्थित मॉडल साहब पर जुर्माना भी लगाया गया।
बीते दिन जगतपुर थाना क्षेत्र में शराब माफियाओं द्वारा पुलिस टीम पर हमला कर पुलिस की कार्यशैली पर सवालिया निशान खड़ा किया था । जिसके बाद जिलाधिकारी वैभव श्रीवास्तव व पुलिस अधीक्षक श्लोक कुमार ने सख्त रवैया अपनाते हुए अवैध शराब बनाने वालों पर शिकंजा कसना शुरू कर दिया है। जिसके चलते ही एसडीएम सदर की टीम ने लगातार छापेमारी कर सैकड़ों लीटर कच्ची शराब बरामद की वहीं कच्ची शराब बनाने वाले में प्रयुक्त होने वाले उपकरण व लहन भी नष्ट किए गए। इस तरह जिला प्रशासन व आबकारी विभाग किसी बड़ी अनहोनी के पहले सतर्कता बरतते हुए ताबड़तोड़ कार्यवाही को अंजाम दे रहा है।
शराब माफियाओं के हौसले इतने बुलंद हैं कि उन्हें यह कहने में बिल्कुल भी झिझक नहीं महसूस होती कि वह इसका गलत व्यापार कर रहे हैं। ऐसा ही मामला अहियारायपुर में छापेमारी के बाद देखने को मिली । जब लोगों ने एक महिला से पूछा तो उसने कहा कि मैं खुलेआम शराब बनाती हूं और मैं ही नहीं गांव के अन्य लोग भी अवैध रूप से शराब बनाते हैं । बड़े बेबाकी से वह महिला यह कहते नजर आ रही है कि पुलिस पकड़ती है, जेल भेजती हैं, हम छूट कर वापस आ जाते हैं और मुकदमा लड़ते रहते हैं। इस तरफ बेखौफ होकर जब एक महिला जवाब दे रही है तो इस बात का अंदाजा सहज लगाया जा सकता है कि यह एक कुटीर उद्योग का रूप ले चुका है और इसको समाप्त करने में पुलिस व प्रशासन को नाको चने चबाने पड़ेंगे। अंशिका दीक्षित (उपजिलाधिकारी सदर) ने बताया कि सहर कोतवाली क्षेत्र अहिया रायपुर में छापेमारी की गई। जिसमें लगभग एक हजार कुंतल लहन नष्ट किया गया वही पचास से साठ लीटर अवैध कच्ची शराब बरामद की गई। मौके से दो लोगों को गिरफ्तार कर लिया गया है बाकी लोग फरार हो गए हैं। जो फरार हुए हैं उनके लिए भी टीमें बना दी गई हैं जल्द गिरफ्तारी होगी। वही मॉडल शॉप पर भी चेकिंग की गई। अनियमितता पाए जाने पर फाइन चार्ज किया गया है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.