रायबरेली: अंतरराष्ट्रीय ठगों के गिरोह के 3 नाईजीरियाई ठग चढ़े पुलिस के हत्थे

0
184

मनीष अवस्थी


रायबरेली। शहर कि रहने वाली एक तलाक शुदा महिला को उसके इंस्टाग्राम पर एक फ़्रेंड रिक्वेस्ट आई थी।महिला ने उसे ऐक्सेप्ट किया तो दोनों के बीच डीएम चैट शुरू हो गई।इसी बीच दोनों के दरमियान व्हाट्सऐप नंबर का आदान प्रदान हुआ।युवक ने खुद को अमेरिका का रहने वाला एक बड़ा डॉक्टर हैरी बताया था। नाइजीरियन सचमुच के अमेरिकी डॉक्टर हैरी की हैक की हुई प्रोफ़ाइल से फ़ोटो चुराकर रोज़ अपडेट करता था।डॉक्टर हैरी बने नाइजीरियन के मोहपाश में महिला फंसती चली गई।
सीओ सिटी वंदना सिंह की अगुवाई में पुलिस ने मामले की तफ्तीश शुरू की तो विदेशी लोगों के जुड़े होने की बात सामने आई।बाद में इस मामले में एसटीएफ भी जुट गई।एसटीएफ बंद पड़े इंस्टाग्राम से कंप्यूटर का आईपी हासिल कर दिल्ली की लोकेशन तक पहुंच गई।दिल्ली में चिन्हित लोकेशन के नंबरों को सर्विलांस पर लगाया तो उनमें एक नंबर ऐसा था जो हर छोटी बड़ी इस्तेमाल की चीजें घर पर ही फोन से मंगवाता था और उसके सामान्य दाम से कई गुना ज्यादा भुगतान करता था।एसटीएफ ने सामान पहुंचाने वालों को विश्वास में लेकर छापेमारी की तो तीन नाइजीरियन हत्थे चढ़ गए।
पुलिस ने पकड़े गए नाइजीरियन युवकों के कब्ज़े से उनके पासपोर्ट जब्त कर एम्बेसी को सूचित कर दिया है।युवकों ने बताया कि वह लोग 2019 में भारत नौकरी करने के नाम पर आए थे।यह लोग यहां अपने शिकार को फंसाने के बाद मिली रकम को तुरंत नाईजीरिया ट्रांसफर कर देते हैं।नाइजीरियन युवकों ने बताया कि यह पहला केस उन्हें मिला था जिसे पूरा कर अब दूसरा शिकार तलाश रहे थे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.