2017-18 से अब तक 1280 जोड़ों का कराया गया सामूहिक विवाह

0
417

अमेठी से सफीर अहमद की रिपोर्ट

शादी अनुदान योजना अंतर्गत अनुसूचित जाति एवं सामान्य वर्ग के 2713 लाभार्थियों को 542.6 लाख का दिया गया अनुदान

अमेठी: मुख्यमंत्री के निर्देशन में समाज कल्याण विभाग द्वारा निर्धन, गरीब, असहाय एवं गरीबी रेखा से नीचे जीवन यापन करने वाले व्यक्तियों की पुत्रियों की शादी हेतु मुख्यमंत्री सामूहिक विवाह योजना एवं शादी अनुदान योजना संचालित की गई है।

मुख्यमंत्री सामूहिक विवाह योजना अंतर्गत प्रति जोड़े 51 हजार जिसमें 35000 कन्या के खाते में एवं 10000 वर-वधू को उपहार एवं 6000 आयोजन पर व्यय किए जाने का प्रावधान है, इसी प्रकार शादी अनुदान योजना में अनुसूचित जाति एवं सामान्य वर्ग को रु 20,000 की धनराशि दिए जाने का प्रावधान है। जिलाधिकारी अरुण कुमार के निर्देशन में जिला समाज कल्याण अधिकारी राजेश शर्मा ने बताया कि सामूहिक विवाह योजना अंतर्गत जनपद अमेठी में वर्ष 2017-18 से अब तक 1280 जोड़ों का सामूहिक विवाह संपन्न कराया जा चुका है।

जिसमें 568 लाख का व्यय किया गया है, इसी प्रकार शादी अनुदान योजना अंतर्गत अनुसूचित जाति एवं सामान्य वर्ग के 2713 लाभार्थियों को 542.6 लाख का अनुदान दिया गया है। उन्होंने बताया कि मुख्यमंत्री सामूहिक विवाह योजना का लाभ लेने हेतु आवेदक द्वारा अपना पंजीकरण संबंधित विकास खंड कार्यालय, नगर पालिका परिषद, नगर पंचायत स्तर पर आवेदन किया जाता है तथा जांच उपरांत पात्र पाए जाने की स्थिति में जनपद स्तर, विकासखंड स्तर पर नियत तिथि पर समस्त पंजीकृत जोड़ों का सामूहिक विवाह संपन्न कराया जाता है। उन्होंने बताया कि इस योजना का लाभ लेने हेतु कन्या की उम्र 18 वर्ष एवं वर की उम्र 21 वर्ष से कम न हो, आवेदक का जाति प्रमाण पत्र एवं आय प्रमाण पत्र जिसकी वार्षिक आय रुपए 200000/- तक होनी चाहिए, कन्या का बैंक खाता, फोटो, आधार कार्ड एवं उम्र प्रमाण पत्र एवं वर का फोटो एवं उम्र प्रमाण पत्र अनिवार्य है। इसी प्रकार शादी अनुदान योजना अंतर्गत कन्या की उम्र 18 वर्ष एवं वर की उम्र 21 वर्ष से कम ना हो, आवेदक की जाति प्रमाण पत्र एवं आय प्रमाण पत्र जिसकी वार्षिक आय रुपए 46000 तक होनी चाहिए, आवेदक का बैंक खाता, फोटो, आधार कार्ड, परिवार रजिस्टर की नकल अनिवार्य है, कन्या एवं वर का उम्र प्रमाण पत्र एवं वर-कन्या का संयुक्त फोटो, आवेदन की हार्ड कॉपी के साथ शादी कार्ड मूल रूप में संलग्न किया जाना अनिवार्य है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.