पैदल चलने से कैसे मिलता है सुख — रजनी दीक्षित

0
553

मोहनलालगंज।पैदल सभी चलते हैं – आफिस में, स्कूल कालेज जाते वक्त या फिर शा‌ॅपिंग करने के बहाने। कुछ लोग यह सोचकर कि पैदल चलना स्वास्थ्य के लिए लाभदायक है, सबेरे सबेरे टहलने निकल जाते हैं। पैदल चलने के कई फायदे तो। म सभी जानते हैं,
जैसे पैदल चलने से रक्त का संचार तेज हो जाता है, मांसपेशियो के दर्द से राहत मिलती है, अच्छा व्यायाम हो जाता है, मोटापा नहीं बढ़ता वगैरह वगैरह। मगर पैदल चलने का एक और फायदा है ` पैदल चलने का आंतरिक सुख’ ।
मेरी मां अक्सर कहा करती थीं, ` जब मैं दुखी होती हूं तो पैदल घूमने चली जाती हूं और कुछ देर बाद मेरा तनाव काफी कम हो जाता है अौर जब खुश होती हूं तो खुशी अनुभव करने के लिए भी अकेले टहलने निकल जाती हूं’।
कई लोग सुबह टहलते हुए दिन भर के काम के लिए योजना बना लेते हैं। असल में इस समय वे व्यस्त दिनचर्या के लिए स्वयं को तैयार कर रहे होते हैं।
एक लेखक‌ के अनुसार, `रात को घूमते समय ही उनके सभी लेखों के विषय व कहानी के प्लाट ईजाद हुए हैं’।
दरअसल जब आप पैदल घूम रहे होते है, तो स्वयं के‌ करीब होते है, इसलिए ऐसे वक्त आप अपनी किसी कृति को बखूबी जन्म दे पाते हैं।
महिलाएं इस बात से इंकार नहीं कर सकतीं कि पैदल शापिंग का जो मजा है, वो कार या स्कूटी में नहीं है, आखिर पैदल जाने पर ही आप पूरे बाजार का मुआयना कर सकती हैं ।
परीक्षा के दौरान भी, पढ़ाई के टाइम-टेबल के साथ ही घूमने का कार्यक्रम भी अवश्य बनाती थी। घूमते हुए मैं पढ़ें हुए विषयों को जल्दी आत्मसात कर पाती थी।
घूमते हुए आत्मचिंतन कीजिए। गिले शिकवे मिटाइए या पुरानी यादों को ताजा कीजिए।
कभी कभी बारिश में पैदल लम्बी सैर के लिए जाइये। तभी आप अनुभव कर पाएंगे कि पैदल चलने का अपना आंतरिक सुख है।
हर मौसम में व विभिन्न स्थानों पर पैदल चलने से शारीरिक व मानसिक बल मिलता है।
आज के कारों अौर दुपहिया वाहनों के युग में लोग पैदल कम ही चलते हैं, इसलिए इस सुख से वंचित रह जाते हैं आप सभी अधिक से अधिक पैदल चलें, तो जान पायेंगे कि पैदल चलने के अनेक फायदे हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.