गले लगाकर लोगों को दी गई मुबारकबाद

0
132

सलोन रायबरेली: (कपिल तिवारी ) रमजान महीने के बाद अल्लाह का नायाब तोहफा ईद-उल-फितर जिला मुख्यालय सहित प्रखंडों में धूमधाम से मनाया गया। सुबह से ही मदरसा सहित ईदगाहों में नमाजी की भीड़ उमड़ने लगी। सुबह 8.30 बजे मदरसा सलोन ईद गाह परिसर में बड़ी संख्या में नमाजी पहुंचकर अल्लाह की इबादत कर अमन-चैन के साथ वतन की सलामती के लिए दुआ मांगे।

नमाज अदा करने के बाद आपसी भेद-भाव और गिले-शिकवे को भुलाकर लोगों ने एक दूसरे को ईद की मुबारकबाद दी। साथ ही घर-घर पहुंच के बाद सेवाईयां खाकर आपसी भाईचारगी का परिचय भी दिए। ईद के अवसर पर सभी संप्रदाय के लोगों ने भी एक दूसरे के गले मिलकर सामाजिक सौहार्द की मिसाल कायम की। बड़े-बुजुर्ग की तरह छोटे-छोंटे बच्चे भी गले मिलकर एक दूसरे को मुबारकबाद दे रहे थे। रोजेदारों ने सोमवार संध्या बेला चांद का दीदार किया और मंगलवार को ईद-उल-फितर का पर्व मनाकर खुशियों का इजहार किए। सोमवार की संध्या बेला से ही शहर से लेकर गांव तक माहौल उत्सवी था। वहीं बधाई देने का सिलसिला भी चलता रहा। मंगलवार सुबह सात बजे से ही ईदगाह और मस्जिदों में नमाजी जुटने लगे। बच्चों से लेकर बुजुर्ग तक मस्जिद, ईदगाह और मदरसा में नए कपड़ों में सजधज कर नमाज अदा किए। वहीं समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय कार्यकारिणी सदस्य इरफान सिद्दीकी ने लोगों से गले मिलकर मुबारकबाद दी और आपसी भाईचारा कायम रखने की अपील की।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.