बच्चों को बाजारों में लुभा रही हैं रंग बिरंगी पिचकारियां

0
350

रिपोर्ट- मो परवेज

सरेनी (रायबरेली)। होली का “रंग” चढ़ने लगा है।हर चौराहे,तिराहे और कस्बे पर रंग ,अबीर ,गुलाल और पिचकारी बिक रही हैं।रंगोत्सव में चंद दिन बचे हैं।ऐसे में बाजार लगभग इसके लिए तैयार हैं।बाजारों में तरह-तरह की चीजें बिक रहीं हैं।रंग बिरंगी पिचकारियां बच्चों को लुभा रही हैं तो देशी रंग बड़ों को इस बार होली पर जमकर हुड़दंग करने को लालायित कर रहे हैं।दरअसल कोरोना वायरस फैलने की वजह से इस बार बाजार में चीनी रंगों की कम मौजूदगी की आशा है।लोग भाईचारे के इस त्यौहार के लिए खरीददारी भी करने लगे हैं। घर पर महिलाएं पकवान बनाने की तैयारियों में जुटी हुई हैं।

थोड़ा संभलकर करें रंगों की बौछार

होली पर रंगों की बौछार ना हो भला, ऐसा हो सकता है। बच्चे हो या जवान सभी खूब होली खेलते हैं। ऐसे में आपको थोड़ी सावधानी बरतने की जरूरत है।प्राकृतिक रंगों से होली खेलें इसमें आपकी त्वचा की सुरक्षा की गारंटी अधिक रहती है।अगर रंग लगते खुजली हो तो तुरंत नहाएं।आंख और कान में रंग या अबीर ना जाने दें।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.