बछरांवा-किडनी कांड के मुख्य आरोपी को पुलिस ने किया गिरफ्तार,अन्य आरोपियों की तलाश में जुटी पुलिस

0
437

बछरावां रायबरेली। कस्बा बछरावां के आदि नगर का रहने वाला राम जी गुप्ता पुत्र पुत्र बाबूलाल को बहला-फुसलाकर किडनी का ट्रांसपेरेंट कराने वाले गिरोह के सरगना को बछरावां पुलिस ने कानपुर जेल से रायबरेली जेल में भेज दिया है ।जानकारी के अनुसार रामजी गुप्ता द्वारा स्थानीय थाने बछरावां में रामू ,गौरव मिश्रा ,डॉक्टर ओम प्रकाश राय, शिवमूरत राय,  डॉक्टर संदीप गुलेरिया व बृजेश राय के विरुद्ध 8 दिसंबर 2017 को धारा 420, 326, 120 बी 506, 19 मानव अंग प्रत्यारोपण अधिनियम के तहत मुकदमा दर्ज कराया था। पीड़ित रामजी ने आरोप लगाया था कि उसे बहला-फुसलाकर 10 अप्रैल 2015 को नौकरी का झांसा देकर किडनी का प्रत्यारोपण करा लिया गया था ।जिसके बाद पीड़ित को नौकरी न मिलने के चलते बछरावां थाने में 6 लोगों के विरुद्ध मुकदमा पंजीकृत कराया था ।थाने में तैनात इस्पेक्टर यदुवीर सिंह द्वारा जांच की जा रही थी ।इसी दौरान कानपुर में किडनी कांड में शामिल अभियुक्तों को पुलिस द्वारा गिरफ्तार कर जेल भेजा गया था। विवेचक द्वारा जांच में पीड़ित द्वारा पहचान करा कर रामू पांडे पुत्र राम नाथ पांडे निवासी मक्का गंज थाना हसनगंज जनपद लखनऊ का नाम प्रकाश में आया था। पीड़ित ने यह भी बताया कि वह लखनऊ में काम के सिलसिले से गया हुआ था तभी लखनऊ में नौकरी  दिलाने के नाम पर  राम जी को  किडनी ट्रांसप्लांट कराने के लिए  साजिश के तहत  3 माह तक  सभी अभियुक्तों द्वारा  स्थानीय अस्पताल में रखा गया था । जिसके बाद सभी  फर्जी तरीके से औपचारिकता पूर्ण कर किडनी का ट्रांसपेरेंट 13 अप्रैल 2015 को करा लिया गया था ।जिसके बाद विवेचक द्वारा किडनी कांड में साजिश करने वाले रामू पांडे को जेल भेज दिया है। विवेचक ने बताया कि अन्य अभियुक्तों की तलाश की जा रही �

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.