अमेठी: कब अतिक्रमण मुक्त होगा मिनी स्टेडियम घोरहा ? प्रशासन नहीं ले रहा सुध ?

0
278

अमेठी: विकासखंड भादर के ग्राम पंचायत घोरहा में स्थित ग्रामीण मिनी स्टेडियम उसके समीप स्थित खेल मैदान, स्कूल का खेल मैदान तथा ऊसर, बंजर , नवीन परती के खाते की सरकारी भूमि पर हुए अतिक्रमण के खिलाफ हाईकोर्ट मे जनहित याचिका दायर की गई थी जिसमें न्यायालय ने आदेश जारी करते हुए जमीन को अतिक्रमण मुक्त कराने के लिए तहसीलदार अमेठी को निर्देश दिया है आदेश के बाद जहां एक ओर अतिक्रमणकारियों के होश उड़े हुए हैं वहीं खिलाड़ियों में खुशी की लहर है ग्राम पंचायत घोरहा के खेल मैदान व मिनी स्टेडियम की भूमि पर लोगों ने कई वर्षो से अतिक्रमण कर रखा है।

तीन दशक से स्थानीय खिलाड़ी व अन्य लोगों ने इसके खिलाफ आंदोलन छेड़ रखा था मामले में समय-समय पर तहसील प्रशासन व जिला प्रशासन द्वारा बेदखली की कार्यवाही किए जाने के बाद भी भूमि को कब्जा मुक्त नहीं कराया गया युवक मंगल दल घोरहा के युवा नेता व सुप्रीम कोर्ट के अधिवक्ता अभीष्ट विक्रम सिंह के शिकायती प्रार्थना पत्र पर कांग्रेस एमएलसी दीपक सिंह ने सदन में भी इस विषय पर मुद्दा उठाया लेकिन भूमि अतिक्रमण मुक्त नहीं हुई बार-बार स्थानीय प्रशासन व जिला प्रशासन को पत्र लिखने के बाद भी महज खानापूर्ति हुई जिसके बाद स्थानीय खिलाड़ी अंश सिंह के द्वारा 27 जनवरी 2022 को हाईकोर्ट लखनऊ में पीआईएल दाखिल किया गया।

जिस पर सुनवाई के दौरान याचिका निस्तारित करते हुए तहसीलदार अमेठी को निर्देशित किया गया कि सभी विचाराधीन वाद को आदेश तिथि से छ माह के भीतर निस्तारित करते हुए उक्त भूमि को अतिक्रमण मुक्त कराएं इस संबंध में याचिकाकर्ता से जब बात की गई तो बताया कि अतिक्रमण के कारण खेल परिसर में हॉकी , फुटबॉल दौड़ जैसे किसी भी एक खेल का पूर्ण मैदान नहीं बन पा रहा है जबकि खेल मैदान, स्कूल का मैदान, ग्रामीण मिनी स्टेडियम व ग्राम सभा की कुल भूमि मिलाकर लगभग 24 बीघा भूमि है भूमि अतिक्रमण मुक्त कराने के लिए हम विधिक रूप से हर संभव प्रयास करेंगे

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.