अमेठी:जिला पंचायत अध्यक्ष ने कई निर्माणाधीन सड़कों का किया औचक निरीक्षण

0
145

अमेठी जिला पंचायत अध्यक्ष राजेश अग्रहरी उर्फ राजेश मसाला ने आज कहा कि सड़कों के निर्माण में गुणवत्ता के साथ कोई समझौता नहीं हो सकता है इसमें किसी भी तरह की लापरवाही बर्दाश्त नहीं की जायेगी है गुणवत्ता की अनदेखी करने वाले ठेकेदारों के लिए जिला पंचायत में कोई जगह नहीं है

जिला पंचायत अध्यक्ष ने आज मुसाफिरखाना ब्लाक के पलिया पूरब गांव मे बन रहे सी सी रोड का निरीक्षण करने के बाद कही ।राजेश ने कई अन्य निर्माणाधीन सड़कों का औचक निरीक्षण करने के बाद कहा कि वह हमेशा कहते हैं की ऐसी सड़कों का निर्माण होना चाहिए जिन पर 20 साल तक मरम्मत का कोई काम ना करना पड़े सडके मानक के तहत बने टिकाऊ और मजबूत हो।

जिला पंचायत अध्यक्ष ने कहा कि उन्होंने अध्यक्ष का पदभार संभालने के साथ ही कहा था कि जिला पंचायत में कमीशन वाले खाते को बंद कर दिया गया है ना खाएंगे ना खाने देंगे जनता के विकास का पैसा है और उसको सही ढंग से सही जगह पर लगाया जाएगा

राजेश अग्रहरी ने कहा कि ठेकेदारों को समझ लेना चाहिए पुरानी जिला पंचायत नहीं है अब पूरी ईमानदारी निष्ठा और लगन के साथ गुणवत्तापूर्ण काम करना होगा जो उनके मानक पर खरा नहीं उतर पाएगा उसके लिए जिला पंचायत के दरवाजे बंद हो जाएंगे।

मुसाफिरखाना ब्लाक के गुन्नौर ग्राम सभा में पंचदेव नव दुर्गा मंदिर के पास बन रहे तालाब और पेयजल , की गुणवत्ता की जांच में कमी पाई गई ,यहां मोरंग की जगह बालू से जुड़ाई कार्य चल रहा था जिससे देखकर जिला पंचायत अध्यक्ष ने अपने अधीनस्थ जेई और और m.a. को फटकार लगाते हुए कहा कि यहां से तुरंत बालू हटाकर मोरम से जुड़ाई हो और मानक अनुसार तालाब और पेयजल का निर्माण कार्य कराया जाए अच्छी गुणवत्ता नहीं होने पर संबंधित ठेकेदार को पेमेंट ना करने का आदेश दिया

राजेश ने वारिसगंज के कैमा ग्राम सभा में बन रहे सीसी रोड की गुणवत्ता की जांच किया यहां रोड के साइड में रोड की पटरी नहीं बनी हुई थी यहां पहुंचकर संबंधित ठेकेदार और जेई को फटकार लगाते हुए बरसात से पहले सड़क बनाने का आदेश दिया, और कहा कि सड़क निर्माण में कोई भी कोताही बर्दाश्त नहीं की जाएगी।

मां सर्वेश्वरी धाम मे फरवरी से निर्माणाधीन पेयजल और तालाब का निरीक्षण किया यहां के पुजारी से जानकारी ली जिला पंचायत अध्यक्ष ने बरसात से पहले तालाब और पेयजल के मानक अनुसार कार्य करने के आदेश दिए।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.