अमेठी: सांसद स्मृति ने कहा गांधी खानदान ने किया अमेठी के साथ छल

0
108

अमेठी: केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी ने आज गांधी परिवार पर तीखे हमले करते हुए कहा कि इस परिवार ने दशको दशक तक यहां अपनी राजनैतिक रोटी सेकता रहा अपना खजाना भरा पर अमेठी के विकास और यहां के लोगो के विषय मे नही सोचा।

मोदी सरकार के आठ साल पूरा होने पर गौरीगंज कलेक्ट्रेट मे आयोजित कार्यक्रम को संबोधित करते हुए स्मृति ने कहा कि देश के इस राजनैतिक परिवार ने यहा से अपना राजनैतिक मार्ग तो प्रशस्त्र किया पर यहा के लोगो को गरीब बना कर रखा ताकि यहा के लोग उनके सामने हाथ जोड कर गिडगिडाते रहे। इस परिवर ने अपने स्वार्थ मे अमेठी को बरबाद कर दिया।जनता की कोई सुध नही नही ली।

स्मृति ने कहा कि 2019 से पहले अमेठी मे सांसद खोजने से नही मिलता था अमेठी आने का उनके पास सयम नही था वह तो विदेश घूमा करते थे।उंहोने कहा कि अमेठी के पूर्व सांसद ने कभी यहा की बात सदन मे नही रखी जब मैने सदन मे पहले बार अमेठी के विषय मे बोला तो मेरे पास बहुत फोने आये लोगो ने कहा कि पहली बार अमेठी की बात सदन मे रखी गयी।

स्मृति ने कहा कि गांधी खानदान ने हमेशा अमेठी का उपहास किया यहा के लोगो के साथ छल गया वह जो कर रहे थे उसका उंहे पता भी था उनको यह भी ज्ञात था की अमेठी की जनता मे अक्रोश है यही कारण है कि वह 2019 ये केरल भाग लिये थे।

स्मृति ने कहा कि गांधी खानदान ने अमेठी के किसानो से मेडिकल कालेज बनाने के नाम पर जमीन ली मुंशीगंज उस जमीन पर अपना गेस्ट हाउस बना लिया और 40 साल तक अमेठी के लोगो को मेडिकल कालेज का सपना दिखाते रहे। विदेश घूमते रहे और अमेठी मे मेडिकल कालेज,पासर्पोट सेंटर खोलने का काम प्रधानमंत्री नरेंद्र दमोदर दास मोदी ने किया। स्मृति ने कहा कि अमेठी को उडान और बस अडडा से जोडने का काम भाजपा की सरकार ने किया।

स्मृति ईरानी ने कहा कि कांग्रेस की सोच और विचारधारा और उसके कृतियों के चलते लोगों का लोकतंत्र से विश्वास उठ गया था लेकिन देश में एक परिवर्तन आया और पहली बार प्रधान सेवक के रूप में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी चुने गए प्रधानमंत्री तो अनेकों चुने गए लेकिन प्रधान सेवक पहली बार मोदी जी के रूप मे हम सब को मिले उन्होंने अपनी जिम्मेदारी को प्रधान सेवक के रूप में निभाई और लोगों का विश्वास पुनः लोकतंत्र में स्थापित हुआ

स्मृति ईरानी ने कहा कि 2014 में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी अमेठी के कौहार में रैली करने आए थे और देश के इस भ्रष्टाचारी खानदान के खिलाफ एक जंग का ऐलान था जिसे उखाड़ फेंकने में सफलता हासिल हुई।

स्मृति ईरानी ने कहा कि 2014 से पहले अमेठी के रेलवे स्टेशन और बस अड्डे पेंटिंग के लिए तरस रहे थे लेकिन आज आप सब देख रहे हैं अमेठी के अस्पतालों में सिटी स्कैन अल्ट्रासाउंड और डायलिसिस की सुविधा उपलब्ध हो गई है तमाम तरह की सुविधाएं जो आजादी के 70 सालों में नहीं मिली है वह सब यहां नरेंद्र मोदी और योगी जी की सरकार ने मुहैया करायी है

शिमला में आयोजित प्रधानमंत्री भारत सरकार, नरेंद्र मोदी द्वारा विभिन्न योजनाओं के लाभार्थियों से वर्चुअल संवाद तथा पीएम किसान सम्मान निधि की 11वीं किस्त के हस्तांतरण कार्यक्रम का सजीव प्रसारण आज जनपद अमेठी के जिला मुख्यालय, समस्त विकासखंडों तथा कृषि विज्ञान केंद्रों पर आयोजित किया गया। कार्यक्रम में विभिन्न योजनाओं के भारी संख्या में लाभार्थीगण जनप्रतिनिधिगण व जन सामान्य ने प्रधानमंत्री व मुख्यमंत्री के कार्यक्रम को देखा एवं सुना। इस दौरान जनपद स्तर पर कलेक्ट्रेट परिसर गौरीगंज में आयोजित कार्यक्रम में केंद्रीय मंत्री महिला एवं बाल विकास मंत्रालय भारत सरकार/सांसद अमेठी स्मृति जुबिन इरानी ने प्रतिभाग किया एवं प्रधानमंत्री व मुख्यमंत्री के कार्यक्रम को वर्चुअल माध्यम से देखा एवं सुना। इस दौरान सांसद, विधान परिषद सदस्य शैलेंद्र प्रताप सिंह, जिला पंचायत अध्यक्ष राजेश अग्रहरी, जिलाधिकारी राकेश कुमार मिश्र व मुख्य विकास अधिकारी डॉ अंकुर लाठर ने पीएम आवास योजना ग्रामीण व शहरी, पीएम किसान सम्मान निधि, पीएम उज्जवला योजना, पोषण अभियान, पीएम मातृ वंदना योजना, स्वच्छ भारत मिशन ग्रामीण व शहरी, जल जीवन मिशन, अमृत योजना, पीएम स्वनिधि योजना, वन नेशन वन राशन कार्ड, पीएम गरीब कल्याण योजना, आयुष्मान भारत योजना, पीएम जन आरोग्य योजना, आयुष्मण भारत हेल्थ एंड वैलनेस सेंटर, पीएम मुद्रा योजना, सीएम आवास योजना तथा उत्तर प्रदेश राज्य ग्रामीण आजीविका मिशन योजना के लाभार्थियों को स्वीकृति/प्रमाण पत्र वितरित किए। इस दौरान शिमला से प्रधानमंत्री ने जनपद अमेठी के 163096 किसानों के खाते में 32.61 करोड़ की धनराशि किसान सम्मान निधि के रूप में ऑनलाइन माध्यम से हस्तांतरित किया।

प्रधानमंत्री के वर्चुअल संवाद कार्यक्रम से पूर्व सांसद ने केंद्र सरकार द्वारा विगत 8 वर्षों में की गई उपलब्धियों के बारे में विस्तृत जानकारी दी। उन्होंने बताया कि केंद्र सरकार द्वारा विगत 8 वर्षों में शिक्षा, चिकित्सा, रोजगार सहित अन्य क्षेत्रों में अभूतपूर्व कार्य किए गए हैं। उन्होंने बताया कि जनपद अमेठी में चिकित्सा के क्षेत्र में जिला अस्पताल, 200 बेड का रेफरल चिकित्सालय, ट्रामा सेंटर का निर्माण कराया गया है तथा मेडिकल कॉलेज का निर्माण प्रस्तावित है। शुकुल बाजार क्षेत्र अंतर्गत पिपरी गांव में बाढ़ की समस्या को देखते हुए ग्राम वासियों की सुविधा के लिए बांध का निर्माण कराया गया। उन्होंने कहा कि विगत कोरोना काल में लॉकडाउन के दौरान जिले से बाहर रह रहे लोग 80 हजार लोगों को ट्रेन व बस के माध्यम से सुरक्षित घर वापस लाने का कार्य किया गया। कोविड-19 से अनाथ हुए बच्चों को प्रधानमंत्री द्वारा प्रतिमाह ₹4000 की सहायता राशि दी जा रही है, किसानों की सुविधा हेतु खाद व बीज की उपलब्धता सुनिश्चित कराई गई, जनपद में 6 किसान कल्याण केंद्र, मृदा परीक्षण लैब का निर्माण कराया गया, बेसिक शिक्षा के स्कूलों में फर्नीचर, कायाकल्प योजना के अंतर्गत सौंदर्यीकरण का कार्य कराया गया, गौरीगंज, अमेठी, जायस, ताला, मिश्रौली रेलवे स्टेशनों का कायाकल्प व सौंदर्यीकरण का कार्य कराया गया, अमेठी में ओवरब्रिज, बाईपास का कार्य निर्माणाधीन है। गरीब कल्याण योजना के अंतर्गत जनपद में 5 लाख लोगों को निशुल्क राशन उपलब्ध कराया गया, मनरेगा योजना के अंतर्गत जनपद में 1500 तालाबों को खुदवाकर जल संरक्षण के क्षेत्र में अभूतपूर्व उपलब्धि हासिल की गई, युवाओं के सपनों एवं महिलाओं के संकल्प को साकार करने के लिए विभिन्न कार्य किए गए, लड़कियों की शिक्षा के लिए 3 डिग्री कॉलेज, पॉलिटेक्निक कॉलेज के निर्माण के साथ साथ सैनिक स्कूल का भी निर्माण कराया गया, विधानसभा तिलोई अंतर्गत जनसामान्य के आवागमन हेतु तिलोई बस अड्डे का निर्माण कराया गया। उन्होंने कहा कि केंद्र सरकार ने विगत 8 वर्षों में किसानों, नौजवानों, युवाओं, महिलाओं के उत्थान हेतु अनेक कार्य किए हैं।

कार्यक्रम से पूर्व जिलाधिकारी राकेश कुमार मिश्र व मुख्य विकास अधिकारी डॉ अंकुर लाठर ने सांसद को पुष्पगुच्छ देकर उनका स्वागत किया। कार्यक्रम का संचालन डॉ. रमेश सिंह ने किया। कार्यक्रम के दौरान पुलिस अधीक्षक दिनेश सिंह, जिलाध्यक्ष भाजपा दुर्गेश त्रिपाठी, पूर्व विधायक भाजपा दादा तेजभान सिंह, अपर जिलाधिकारी वित्त एवं राजस्व अजीत कुमार सिंह, अपर जिलाधिकारी न्यायिक आरके द्विवेदी, अपर पुलिस अधीक्षक वीके पांडे, जिला विकास अधिकारी तेजभान सिंह, परियोजना निदेशक आशुतोष दुबे सहित अन्य अधिकारीगण, जनप्रतिनिधिगण, लाभार्थीगण व भारी संख्या में जनसामान्य मौजूद रहे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.