अमेठी:वकील एवं लेखपालों का विवाद फिर गरमाया

0
386

अमेठी: तहसील तिलोई में 4 दिसंबर को हुए अधिवक्ता एवं लेखपालों के बीच में संघर्ष को लेकर अधिवक्ताओं द्वारा जारी हड़ताल के 1 माह बाद आज पुन: समाधान दिवस के समय लेखपालों एवं अधिवक्ताओं के आमने सामने आ जाने से पुलिस प्रशासन के हाथ पांव फूले समाधान दिवस को छोड़कर तहसीलदार तिलोई की मध्यस्थता से जहां दोनों पक्ष शांत हुए वहीं वकीलों ने जहां पुलिस प्रशासन के खिलाफ मुर्दाबाद के नारे लगाए वहीं लेखपालों ने पुलिस प्रशासन के पक्ष में जिंदाबाद के नारे लगाए काफी गहमागहमी के बाद मामला शांत हुआ।

4 दिसंबर को विरासत को लेकर वकील एवं लेखपालों के बीच खूनी संघर्ष हो गया था जिसमें लेखपालों की तहरीर पर पुलिस ने आधा दर्जन अधिवक्ताओं पर मुकदमा पंजीकृत किया था उसी के खिलाफ अधिवक्ताओं का धरना प्रदर्शन जारी है जिसमें एडीएम न्यायिक द्वारा समझौते का प्रयास भी किया था परंतु आज तक उस समझौते को लागू न करने पर आज पुनः समाधान दिवस के अवसर पर अधिवक्ताओं एवं लेखपाल आमने सामने आ गए एवं जिंदाबाद मुर्दाबाद के नारे लगाते हुए एक दूसरे पर आक्रोशित हो उठे जिसमें तहसीलदार तिलोई ने विवाद को होने से रोका।
इस संबंध में उप जिला अधिकारी तिलोई महात्मा सिंह ने बताया कि दोनों पक्षों को समझा-बुझाकर विवाद को रोका गया है और जल्द ही दोनों पक्षों से बात करके मामले का हल किया जाएगा वहीं अधिवक्ता संघ के पदाधिकारियों ने अपनी पूरी मांगे जब तक नहीं मानी जाएंगी तब तक हड़ताल जारी रखने का ऐलान किया।

अमेठी से सफीर अहमद की रिपोर्ट

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.