अमेठी:जुनियर हाई स्कूल में नहीं है शौचालय,बच्चो को हो रही परेशानी

0
613
अमेठी: शुकुल बाज़ार अमेठी बच्चे खुले में शौच के लिए न जाएं इसके लिए सभी परिषदीय विद्यालयों में शौचालय का निर्माण कराया गया था। लेकिन जिम्मेदारों ने शौचालय के नाम पर जैसे मजाक किया। अधिकांश परिषदीय विद्यालयों में केवल दीवारें और छत बनाकर छोड़ दी गईं। ऐसे में ये शौचालय किसी काम नहीं आ सके। बच्चे खेतों में शौच के लिए जा रहे हैं।मामला शुकुल बाज़ार के एक जुनियर हाई स्कूल का ।
जहां पर अभी तक सौचालय की कोई व्यवस्था नहीं की गई है जहां पर बच्चों तथा अध्यापको को सोच के लिए खेतों तथा जंगलों में जाना पड़ता है इस विधालय पर किसी भी ज़िम्मेदार अधिकारी की नज़र आज तक नहीं पड़ी जहां पर बच्चे आज भी खेतों में सौच के लिए जाते हैं मिली जानकारी के अनुसार दक्खिनगाव कयार में स्थित सरस्वती विधा मन्दिर जुनियर हाई स्कूल जो की एडड विधालय की श्रेणी में है जहां पर सेकडों की संख्या में बच्चे शिक्षा गरहण करते हैं परन्तु ज़िम्मेदार अधिकारियों के चलते इस विधालय में आज तक सौचालय की व्यवस्था नहीं हो सकी है।
विद्यालय के प्रभारी प्रधानाध्यापक का कहना है कि उन्होंने इसके सम्बन्ध में कई बार अधिकारियों को पत्र लिखकर शौचालय बनवाए जाने की मांग की। लेकिन आज तक न तो पत्र को कोई जवाब मिला और न ही शौचालय का निर्माण हो सका है।

अमेठी से सफीर अहमद की रिपोर्ट

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.