अमेठी: गांधी परिवार पर लगाया आरोप,किसानों की सैकड़ों एकड़ जमीन ट्रस्ट बनाकर किया कब्जा- कालिका प्रसाद मिश्रा

0
365

कांग्रेस पार्टी के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी और प्रियंका गांधी के एकदिवसीय के दौरे के पूर्व अमेठी में गरमाई राजनीति हाईकोर्ट के अधिवक्ता कालिका प्रसाद मिश्रा ने लगाया बड़ा आरोप कहा भू माफिया है गांधी परिवार

अधिवक्ता कालिका प्रसाद मिश्रा ने बताया कि अमेठी को भूमाफिया गांधी परिवार नें कभी लूटनें का व्यावसायिक घराना बनाया था, आज खोई जमीन तलाश रही है।सर्वविदित है कि सत्ता के प्रभाव से शाज़िशन 1984 में गौरीगंज तहसील के कौहार व भनियापुर गांव में रोड के किनारे बेसकीमती किसानों की सैकड़ों एकड़ जमीन पहले यूपीएसआईडीसी द्वारा अधिगृहीत कराई गई।औने पौने भाव में यह जमीन किसानों को झांसा देकर ली गई कि उन्हें उद्योग लगाकर नौकरी दी जायेगी।उनकी किस्मत बदल जायेगी।
शाज़िशन 1985-86 में सैकड़ों एकड़ जमीन जैन बन्धुओं को सम्राट साइकिल फैक्ट्री लगानें के लिए 99 साल के लिए पट्टे पर यूपीएसआईडीसी द्वारा दी गई। फैक्ट्री चली नहीं अंततः घाटा दिखाकर 1989 में बन्द कर दी गई।फैक्ट्री के ऊपर मुकदमा चला अंततः 2015 में उक्त जमीन की नीलामी हुई, जिसको पूर्व नियोजित ढंग से भूमाफिया गांधी परिवार के ट्रस्ट राजीव गांधी मेमोरियल ट्रस्ट द्वारा बोली लगाकर 20 करोड़ रुपये में खरीद ली गई। जिसकी कीमत सैकड़ों करोड़ रुपये से ज्यादा है।
इस तरह गांधी परिवार शाज़िशन किसानों की जमीन हड़पने में कामयाब हुआ।किसान वाज़िब सवाल के साथ मांग कर रहे कि यदि हमारी ली गई जमीन पर उद्दोग नहीं लगा, हमें नौकरी नहीं मिली हमारी जमीन वापस लौटा दी जाए ताकि हम सब खेती कर सके, जिनकी कोई सुनवाई नहीं हो रही।भाजपा सरकार से कुछ उम्मीद जगी थी कि उनकी जमीन वापस मिलेगी किन्तु निराशा ही हाथ लगी।
इसी तरह गांधी परिवार के राजीव गांधी मेमोरियल ट्रस्ट द्वारा अमेठी के मुंशीगंज में मेडिकल कॉलेज बनाने के लिए सैकड़ों एकड़ बेसकीमती सरकारी जमीन पट्टे पर ली गई।जहां आजतक कोई मेडिकल कॉलेज नहीं बना सिर्फ कागज पर काम हुआ, इसके उलट “संजय गांधी अस्पताल मुंशीगंज” बनाकर करोङो की महीने की मोटी कमाई की जा रही है।ऐसे ही पूरे जनपद में हजारों एकड़ जमीन भूमाफिया गांधी परिवार नें कहीं कार्यालय के नाम,कहीं ट्रस्ट के नाम,कहीं प्रशिक्षण के नाम हड़प रखी है।
गांधी परिवार व उनकी कांग्रेस कम्पनी हर जगह गांधीवाद, नैतिकतावादी बननें का दिखावा करती रहती है।किसानों की मसीहा व हितैषी होनें का नाटक करती है जबकि स्वयं सबसे बड़ी भूमाफिया व जमीन घोटालेबाज है।
अमेठी को परिवार बतानें वाले पूर्व सांसद राहुल गांधी जब अमेठी टूर आ रहे हैं तो क्या वे इन प्रश्नों का उत्तर देंगें कि उनका ट्रस्ट खाली पड़ी सम्राट साइकिल वाली जमीन गरीब किसानों को कब वापस करेगा? उनके ट्रस्ट द्वारा मुंशीगंज में संचालित संजय गांधी अस्पताल में ट्रस्ट के अनुसार लोगों को मुफ्त इलाज कब से मिलेगा?
अंततः अब हम सब गांधी परिवार व शासन प्रशासन को अंतिम बार बताना चाहते हैं कि हमारी खाली पड़ी जमीन वापस लौटा दी जाए अथवा अपनी निर्णायक लड़ाई भूमाफिया गांधी परिवार के खिलाफ खुद हर स्तर से लड़ेगे। कालिका प्रसाद मिश्रा ने सम्राट साइकिल के नाम से जो जमीन ट्रस्ट के नाम ली गई है उसके लिए काफी लंबे समय से लड़ाई लड़ रहे हैं यह मुद्दा पहले भी कई बार राजनीति में शामिल रहा है और इसके लिए प्रधानमंत्री कार्यालय से लेकर जिला अधिकारी कार्यालय तक कई बार इसकी जांच के लिए पत्र भी लिख चुके हैं वही आज एक प्रेस नोट जारी करते हुए गांधी परिवार पर बड़ा आरोप लगाया है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.