अमेठी: डॉक्टर पर गर्भवती महिला की जान लेने का आरोप

0
588

शुकुल बाजार अमेठी: थाना क्षेत्र के जैनब गंज स्थित किसनी निवासी जुम्मन के मकान में जनता हॉस्पिटल में इलाज के लिए भर्ती महिला की स्थिति गंभीर हो गई जिसे इलाज के लिए लखनऊ में भर्ती कराया गया जहां उसकी इलाज के दौरान मौत हो गई। रवि कौशल ने 3 माह की गर्भवती अपनी पत्नी प्रीति कौशल को लेेेकर इलाज के लिए जेनबगंज स्थित जनता हॉस्पिटल पहुंचे। अस्पताल संचालक महमूद पुत्र मुन्ना निवासी सुबेहा जिला बाराबंकी ने बताया कि हमारे यहां महिला चिकित्सक हैं, अच्छा इलाज हो जाएगा। पर्चा बनने के बाद प्रीति कौशल को जांच के नाम पर अंदर ले जाया गया बाद में आकर बताया गया कि बच्चा गर्भ में मर चुका है इसका तुरंत आपरेशन करना पड़ेगा और इसके लिए ₹50000 खर्च आएगा अन्यथा मरीज की जान जा सकती है। पत्नी की जान बचाने के लिए रवि कौशल ने 50,000 रुपए की व्यवस्था कर के संचालक को दिया।
इसके तुरंत बाद रवि कौशल ने अपनी पत्नी से मुलाकात की उस समय पत्नी को पेट में असहनीय दर्द हो रहा था रवि कौशल द्वारा दर्द के बाबत संचालक से जब बताया गया तो संचालक द्वारा उसे कहा गया कि इन्हें लखनऊ से आईसीयू में एडमिट कराना होगा इस दौरान पत्नी प्रीति शर्मा बेहोश हो चुकी थी। बेहोशी की हालत मे पत्नी की जान बचाने के लिए रवि कौशल लखनऊ के प्रतिष्ठित अस्पताल मे लेकर गये जहां चिकित्सको की टीम ने बताया कि आपरेशन करना पडेगा। इसकी आंत फट चुकी है तथा आपरेशन के बाद होने वाले नुकसान के विषय मे हमे बताया गया।

रवि कौशल ने बताया की हम सभी जान बचाने के लिये आपरेशन करवाने को तैयार हुये ,लेकिन आपरेशन के बाद काफी प्रयास के बावजूद भी हमारी पत्नी की जान नही बचाई जा सकी दिनांक 7 मई को लखनऊ में ही पत्नी की मौत हो गई। इस संबंध में रवि कौशल ने थाना बाजार शुक्ल मैं जनता हॉस्पिटल के संचालक व स्टाफ के विरुद्ध तहरीर देकर हत्या का मुकदमा दर्ज किए जाने की मांग की है।

अमेठी से सफीर अहमद की रिपोर्ट

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.