मुख्यमंत्री सामूहिक विवाह कार्यक्रम में 628 जोड़ों का विवाह/निकाह हुआ सम्पन्न

0
353

मनीष अवस्थी


मुख्यमंत्री सामूहिक विवाह कार्यक्रम में 608 जोड़ों सूत्र में बधे के साथ हीं 20 जोड़े मुस्लिम का हुआ निकाह, रीति रिवाजों से से हुआ सम्पन्न गणमान्यजनों ने वर-वधु को दिया आशीर्वाद


रायबरेली: शासन के निर्देशों के अनुपालन एवं जिलाधिकारी वैभव श्रीवास्तव के निर्देशानुसार आई0टी0आई0 कैम्पस के स्टेडियम परिसर, रायबरेली में विभिन्न क्षेत्रों से विवाह हेतु पंजीकृत 608 जोड़ों का विवाह जिसमें 20 मुस्लिम समुदाय के भी जोड़ों का विवाह सदर विधायक अदिति सिंह, सरेनी विधायक धीरेन्द्र बहादुर सिंह, विधायक बछरावा राम नरेश रावत, नगर पालिका अध्यक्ष पूर्णिमा श्रीवास्तव व उनके पति मुकेश श्रीवास्तव तथा जनपद के सभी वरिष्ठ अधिकारियों, कर्मचारियों, जनप्रतिनिधियों एवं सम्भ्रान्त व्यक्तियों की उपस्थिति में विवाह के पवित्र बन्धन में विधि-विधान से विवाह सम्मान कराया गया। जनपद में मुख्यमंत्री सामूहिक विवाह योजना के तहत 608 जोड़ों का सामूहिक विवाह आयोजित कराकर वर-वधु को आशीर्वाद देते हुए हार्दिक बधाई दी व उनके मंगलमय भविष्य की कामना भी की।
सदर विधायक अदिति सिंह, विधायक राम नरेश रावत, धीरेन्द्र बहादुर सिंह द्वारा मुख्यमंत्री सामूहिक विवाह योजनान्तर्गत विवाह बधन में बंधे सभी जोड़ों व उनके परिजनों को हार्दिक बधाई देते हुए मगलमय भविष्य की कामना की है। विधायक अदिति सिंह, विधायक राम नरेश रावत व विधायक धीरेन्द्र बहादुर ने कहा कि पूरे प्रदेश में सामूहिक विवाह योजना में प्रारम्भ से अबतक लाखों से अधिक जोड़ो का विवाह सम्पन्न कराया जा चुका है। विवाह के तहत दहेज की कुप्रथा से मुक्ति, विवाह उत्सव में अनावश्यक अपव्यय एवं प्रदर्शन से मुक्ति, सर्वधर्म समभाव तथा सामाजिक समरसता को बढ़ावा देना भी है। प्रदेश सरकार द्वारा इस प्रकार के आयोजन को प्रत्येक जनपद में कराकर जहां गरीबों परिवारों के विवाह सम्पन्न करा समाजिक दायित्वों का निर्वहन कर रही है वहीं ऐसे इस प्रकार के आयोजन समाज में आपसी भाईचारा और सौहार्द बढ़ता है। प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ जी के निर्देशन में मुख्यमंत्री सामूहिक विवाह का आयोजन से जहां एक साथ सैकड़ों शादियां एक ही मण्डप व एक ही स्थान पर हो रही है इससे फिजूल खर्चे पर भी रोक लगने के साथ ही सामाजिक बुराईयां भी दूर हो रही है।
जिला समाज कल्याण अधिकारी डा0 वैभव त्रिपाठी द्वारा बताया गया कि योजनान्तर्गत शासन द्वारा मुख्यमंत्री सामूहिक विवाह योजनान्तर्गत कन्या के खातें में धनराशि 35000 एवं उपहार सामग्री की धनराशि 10000 तथा कार्यक्रम आयोजन की धनराशि 6000 इस प्रकार प्रत्येक जोड़ों पर 51000 रू0 खर्च किया जा रहा है। उन्होंने कहा कि उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री का गरीब परिवारों की शादी योग्य कन्याओं के विवाह में सहायता उपलब्ध कराने हेतु एक नवीन एवं अभिनव प्रयास है जिसके सुखद परिणाम है। मुख्यमंत्री जी के इस दिशा में उठाये गये कदम का उद्देश्य शादी में अनावश्यक व्यय को नियंत्रित करना है और सामूहिक विवाह को बढ़ावा देना है ताकि कम खर्चे में एक ही स्थान पर विवाह की रसमे पूरी हो जाये। इस तरह के सामूहिक विवाह लोक प्रिय होंगे और ऐसे आयोजनों को बढ़ावा मिलेगा। जिन बच्चों के माता पिता, अभिभावक किसी कारणवश इस दुनिया में नही है इस तरह की शादी से उनको एक सहारा सरकार द्वारा दिया गया है।
कार्यक्रम को सम्बोधित करते हुए अधिकारियों द्वारा कहा कि प्रदेश सरकार समाज के अंतिम छोर पर बैठे वंचित गरीब, निर्धन व्यक्तियों को आशावादी बनाने व उनको आगे बढ़ाने का काम कर रही है। सामूहिक विवाह भी गरीबों के सम्मान से जुडा एक कार्यक्रम है जिसे प्रदेश सरकार ने भव्य तरीके से सभी जनपदों में कराकर एक संदेश दिया है कि कम खर्चे में अधिक लोगों का एक साथ विवाह कराकर फिजूल खर्ची से बचा जा सकता है साथ ही आपसी भाईचारा, राष्ट्रीय एकता खण्डता को अधिक मजबूत किया जा सकता है। प्रदेश सरकार संविधान शिल्पी बाबा साहब डा. भीमराव रामजी अम्बेडकर, पं. दीनदयाल उपाध्याय, पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी आदि महापुरुषों के पद चिन्हों पर चलकर गरीब के चेहरे पर मुस्कान लाने का कार्य कर रही है तभी समाज व देश का विकास संभव है। प्रदेश और केन्द्र सरकार की भी कल्याणपरक, लाभपरक योजनायें वंचित गरीब पिछड़े, किसान को लाभाविंत करने के लिए है जिसका अधिकारी जन जन में प्रचार कर गरीबों को लाभाविंत कर उनका समाजिक आर्थिक, शैक्षणिक उत्थान में आगे आये। प्रदेश व केन्द्र सरकार लेकर देश व समाज के विकास की ओर आगे बढ़ रही है। उन्हें स्वयंसेवी संस्थाओं एवं आम जनता का आवाहन किया कि वे ऐसे आयोजनों में अपनी सहभागिता सुनिश्चित करें तथा सामाजिक दायित्व निर्वहन के लिए आगे आये। वर वधु को विधायक अदिति सिंह, राम नरेश रावत व धीरेन्द्र बहादुर, जिला समाज कल्याण अधिकारी आदि सहित जनप्रतिनिधियों द्वारा वर वधुओं को आशीर्वाद देकर उनके मंगलमय भविष्य की कामना की। कार्यक्रम स्थल पर एम्बुलेन्स व सुरक्षा के पुख्ता इंतेजाम सहित प्रीतिभोज की भी सकुशल व्यवस्था की गई थी। कार्यक्रम में सभी जोड़ो व उनके परिजनों आदि को मास्क वितरण के साथ ही सेनेटाइजेशन भी कराया गया, विवाह के प्रमाण पत्र भी वितरित किये। आयोजित कार्यक्रम का सकुशल संचालन एस0एस0 पांडेय द्वारा किया गया। इसके अलावा मीना मंच द्वारा मुख्यमंत्री सामूहिक विवाह की रंगोली की प्रशंसा भी की गई।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.