छः माह से सफेद हाथी साबित हो रहा सरकारी नलकूप,अन्नदाता परेशान

0
322

अमित त्रिपाठी
महराजगंज रायबरेली।विकासखंड क्षेत्र के भारत का पुरवा मजरे कैर गांव का सरकारी नलकूप विभागीय उपेक्षा से पिछले कई महीनो से बंद पड़ा है। जिससे क्षेत्र के किसान मजबूरन निजी संसाधनो से फसलों क़ी सिचाई करने को विवश है।
मालूम हो क़ी दशकों से इस नलकूप द्वारा क्षेत्र के दर्जनों किसानों की करीब सौ बीघा फसली भूमि की सिचाई हुआ करती थी, लेकिन 6 माह से यह नलकूप सफेद हाथी बना खड़ा है। जिसके चलते क्षेत्र के तमाम अन्नदाता किसानों को सिचाई की भारी समस्याएं हो रही है। नलकूप होने से अनेक गरीब किसानों ने कभी अपने खेतों में बोरिग आदि भी नहीं करवाई, जिससे किसानों को फसलों की सिचाई करने में बड़ी समस्याएं उत्पन्न हो रही हैं। किसान राम सागर ,बाबूलाल, राजकरण, राममिलन, राम सजीवन, राम सुफल ने बताया कि नलकूप सही करने के लिए सूचना विभाग को दी गई तो कुछ विभागीय कर्मचारी गांव आए और नलकूप ठीक करने की बात कहते हुए उसमें लगा विद्युत मोटर भी निकाल ले गए। इसके बाद पलट क़े कोई देखने तक नही आया। पूर्व प्रधान राम लखन यादव बताते हैं कि नलकूप बंद होने की सूचना अधिशाषी अभियंता नलकूप विभाग को दी गई तो उन्होंने आश्वासन दिया था कि जल्द ही ठीक करवा दिया जायेगा। किन्तु छः माह से समस्या का समाधान नही किया गया। किसानो को लेकर विभाग क़ी इस बेरुखी से अन्नदाताओ में आक्रोश व्याप्त है। प्रकरण में उपजिलाधिकारी विनय कुमार मिश्रा ने बताया क़ी नलकूप विभाग को पत्र लिख कर जल्द मरम्मत कराए जाने क़े निर्देश दिए जाएंगे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.