अमेठी:बिना किसी देरी के मरीजों को पहुंचाया जाए अस्पताल- डीएम

0
389

अमेठी से सफीर अहमद की रिपोर्ट


देर शाम कोविड कन्ट्रोल सेंटर पहुंच जिलाधिकारी ने की बैठक


24 घंटे के अंदर मरीज के संपर्क में आने वालों की हो जांच…..डीएम


हाउस टू हाउस सर्वे कर सभी संदिग्धों का पता लगाया जाये…….डीएम


लहोम आइसोलेट मरीजों से रोजाना संपर्क किया जाए……डीएम


जिलाधिकारी ने स्वयं L1 में भर्ती मरीजों से फोन कर स्वास्थ्य संबंधी सुविधाओं की ली जानकारी


अमेठी: कोविड-19 को लेकर मा. मुख्यमंत्री जी द्वारा दिए गये निर्देशों के क्रम में रविवार रात 09:00 बजे जिलाधिकारी अरुण कुमार ने मुख्य चिकित्सा अधिकारी कार्यालय में संचालित एकीकृत कोविड कमांड एंड कंट्रोल सेंटर में सीएमओ सहित अन्य वरिष्ठ अधिकारियों के साथ बैठक कर कोरोना की रोकथाम हेतु आवश्यक दिशा निर्देश दिए। जिलाधिकारी ने अधिकारियों से हाउस टू हाउस सर्वे, कोरोना संदिग्ध व्यक्तियों की पहचान, मरीजों को बिना देरी के अस्पताल पहुंचाने, संदिग्ध व्यक्तियों की जांच आदि कई बिन्दुओं पर अधिकारियों से जानकारी ली।जिलाधिकारी ने निर्देश दिए कि यदि कोई व्यक्ति कोरोना पॉजिटिव पाया जाए तो 24 घंटे के अंदर उसके संपर्क में आने वाले सभी हाई एवं लो रिस्क कान्टेक्ट की ट्रेसिंग कर सैम्पल जरूर लिए जाएं। जिलाधिकारी ने कहा कहा कि टीमों द्वारा आईएलआई/एसएआरआई लक्षण वाले सभी व्यक्तियों की पहचान की जाए। सभी कोरोना पॉजिटिव मरीजों से 24 घंटे संपर्क बनाए रखा जाए। कोविड अस्पताल में शिफ्ट होने वाले मरीजों को बिना किसी देरी के भर्ती किया जाए।

जो मरीज होम आइसोलेशन में है उन्हें रैपिड रिस्पांस टीम द्वारा होम आइसोलेशन के प्रोटोकॉल के बारें में अच्छी तरह से बताया जाये तथा उनके एंड्रॉयड फोन में आरोग्य सेतु एप एवं होम आइसोलेशन ऐप डाउनलोड कराया जाए। उन्होंने कोविड सम्बंधित कर्मचारी को निर्देश दिए कि होम आइसोलेशन में रह रहे सभी मरीजों से रोजाना संपर्क किया जाए। यदि उन्हें कोई समस्या आ रही हो तो तत्काल उसका निस्तारण कराया जाये। सभी कोरन्टाइन एवं अस्पतालों में कोविड कमांड एवं कंट्रोल सेंटर का हेल्पलाइन नंबर चस्पा किया जाए जिससे कि लोग अपनी समस्याओं को सीधे उच्च अधिकारियों से अवगत करा सके। जिलाधिकारी ने कहा कि सभी मरीजों को एंबुलेंस की सुविधा मुहैया कराई जाए। उन्होंने कहा कि शिफ्ट किए जाने वाले मरीजों का विवरण कोविड कंट्रोल सेंटर में रखा जाए।

जिलाधिकारी द्वारा निर्देश दिए कि सेंटर में प्रत्येक पाली में तैनात कर्मचारियों की उपस्थिति सुनिश्चित की जाए। इसके साथ जिलाधिकारी ने कंट्रोल रूम में मौजूद कर्मचारियों से कहा कि प्रतिदिन जैसे ही कोरोना पॉजिटिव मरीजों की रिपोर्ट आए तो तत्काल संबंधित उप जिलाधिकारी को भी सूचना दी जाए। इस दौरान जिलाधिकारी ने स्वयं L1 हास्पिटल में भर्ती मरीजों से रेंडम फोन कर मिलने वाली सुविधाओं यथा खाने की क्वालिटी, चादर बदलना, डॉक्टरों की उपस्थिति, शौचालय/फर्श आदि की साफ-सफाई के बारे में जानकारी ली एवं संबंधित अधिकारियों को आवश्यक निर्देश दिए। इस दौरान मुख्य विकास अधिकारी डॉ. अंकुर लाठर, अपर जिलाधिकारी (वि0/रा0) वंदिता श्रीवास्तव, अपर जिलाधिकारी न्यायिक/नोडल अधिकारी सुधीर रुंगटा, मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ आरएम श्रीवास्तव, उप जिलाधिकारी गौरीगंज संजीव कुमार मौर्या सहित अन्य संबंधित मौजूद रहे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.