अमेठी:चौराहे पर बना लघु शंका स्थल गंदगी से बदहाल

0
483

अमेठी से सफीर अहमद की रिपोर्ट

शुकुल बाजार: अमेठी एक ओर जहां सरकार स्वच्छ भारत मिशन को बढ़ावा देने के लिए शहरों से लेकर ग्रामीण अंचलों तक सुलभ शौचालय पेशाब घरो एवं व्यक्तिगत शौचालयों के निर्माण के लिए बड़े पैमाने पर अभियान चलाकर कार्यक्रम को सफल बनाने का प्रयास कर रही है वहीं कस्बे में नहर के समीप बनाया गया पेशाब घर बदहाल बना हुआ है ग्राम पंचायत मवैया रहमतगढ़ द्वारा लोगों की सुविधा हेतु अंबेडकर चौराहे के निकट हजारों रुपए की लागत से पेशाब घर का निर्माण कार्य कराया गया।

परंतु आतिक्रमण के शिकार के साथ-साथ सफाई की बाट जोह रहा है खास बात यह है कि हजारों रुपए खर्च होने के बाद वहां तक पहुंचने के लिए न तो कोई रास्ता है और न ही कोई सफाई कर्मी उसे साफ करने आता है स्थिति यह है कि वह गंदी को और बढ़ावा दे रहा है भले ही कस्बे में लाखों रुपए की लागत लगाकर एक नया  शौचालय बना दिया गया हो परंतु यदि यही स्थिति बनी रही तो वह भी धीरे-धीरे बदतर की स्थिति में पहुंच जाएगा क्योंकि हजारों रुपए की लागत से निर्मित किया गया पेशाब घर अपनी दुर्दशा पर आंसू बहा रहा है चौराहे के निकट पेशाब घर होना आवश्यक है और वह बना भी है परंतु सफाई व रखरखाव के अभाव में वह निष्क्रिय हालत में पहुंच गया है।

इस संबंध में सचिव ग्राम पंचायत का कहना है कि सफाई करा कर उसे पुनः संचालित किया जाएगा परंतु खास बात यह है कि काफी लंबे समय से न तो उसकी देखरेख की गई और न ही उसकी मरम्मत ही का कार्य किया गया है

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.