मौत के मुंह में अन्नदाता,यूरिया की कमी के चलते लगती है भारी भीड़

0
580

अमेठी: भारत की राजनीति का गढ़ माने जाने वाली वीवीआइपी अमेठी आज अपनी दुर्दशा का बयान कर रही है जहां एक तरफ कोरोनावायरस का डर और  लोग अपने घरों से नहीं निकलना चाहते हैं वही अमेठी की किसानों की दुर्दशा क्षेत्र में सरकारी खाद की दुकानों पर लंबी लाइनों को देखकर लगाया जा सकता है इतना ही नहीं जहां केंद्रीय मंत्री और भाजपा नेता लगातार दावे करते रहते हैं कि खाद भेज दी गई है और खाद पर्याप्त मात्रा में किसानों के लिए उपलब्ध है।

 

 लेकिन जमीनी हकीकत पर लंबी लाइनों को देखकर धान की फसल बर्बाद होने से बचाने के लिए दुकानों पर बड़ी-बड़ी लाइनें आपको लगभग लगभग सभी दुकानों पर मिल जाएंगे और इतना ही नहीं अमेठी वीवीआइपी क्षेत्र में एक केंद्रीय मंत्री एक राज्य मंत्री व विधायक बीजेपी के हैं लेकिन फिर भी इस महामारी में किसान अपनी जान हथेली पर रखकर भीड़ में लंबी लाइन लगाकर यूरिया खाद के लिए दर-दर भटक रहे हैं और गौरा कटारी रानीगंज शुकुल बाजार आदि क्षेत्रों में तो यह खाद अभी तक उपलब्ध ही नहीं पाई हो हाईकोर्ट के अधिवक्ता कालिका प्रसाद मिश्रा जी ने इस मामले में जिला प्रशासन और केंद्रीय मंत्री से यूरिया खाद की उपलब्धता सुनिश्चित कराने के लिए मांग की है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.