प्रशासन का चला चाबुक, हटवाई गयी अवैध कब्जे की जमीन…..

0
868

रिपोर्ट कपिल तिवारी

सलोन रायबरेली l भारी पुलिस बल के साथ तहसील प्रशासन ने कोतवाली के नए भवन बनने के लिए दी गई जमीन से अवैध कब्जा हटवा कर सीमांकन करवा कर पत्थर लगाए गए कस्बा के मेन रोड स्थित रायबरेली प्रतापगढ़ मार्ग की बेशकीमती जमीन पर कब्जा के लिए प्रति पक्षी गण व तहसील प्रशासन के बीच कई महापुरुषों से चल रही रस्साकशी मैं उच्च न्यायालय वह जिलाधिकारी के यहां से प्रति पक्षी गणों को कोई सुनवाई ना होने से उनके वाद को निरस्त कर दिया गया था उसके बाद फरवरी सन 2020 में तहसील प्रशासन ने कोतवाली के नए भवन के लिए गाटा संख्या 1981 मी बटे जीरो पॉइंट 500 हेक्टेयर व गाटा संख्या 3312 क बटे जीरो प्वाइंट 423 हेक्टेयर जमीन आवंटित कर दी गई कोतवाली को आवंटित की गई जमीन पर दर्जनों लोगों ने वहां कब्जा करके रखा था उपजिला अधिकारी आशीष कुमार सिंह वह तहसील दार राम कुमार शुक्ला के नेतृत्व में थाना भदोखर, डीह, नसीराबाद, ऊंचाहार व कोतवाली सलोन के पुलिस पीएसी बल जेसीबी मशीन वा ट्रैक्टर के साथ रविवार की दोपहर लगभग 11:00 बजे अतिक्रमण व अवैध कब्जा किए हुए स्थान पर पहुंच कर अतिक्रमण हटवाया गया क्षेत्राधिकारी राम किशोर सिंह प्रभारी निरीक्षक बृजमोहन ने शांति व्यवस्था के लिए चप्पे-चप्पे पर पुलिस बल तैनात किया था और वह स्वयं मानिटरिंग कर रहे थे जिससे कोई विवाद ना हो तहसील के दर्जनों लोगों की टीम के साथ जमीन का सीमांकन करा कर अवैध कब्जा हटवाया गया तथा निशानदेही के लिए वहां पत्थर लगवाए गए तहसील प्रशासन के इस ऐतिहासिक कदम से क्षेत्र में चर्चा का विषय बना हुआ है अतिक्रमण हटाते समय मौके पर हजारों लोगों की भीड़ जुट गई थी इस मामले में उप जिलाधिकारी आशीष कुमार सिंह ने बताया कि कस्बा के मोहम्मद सिद्दीकी बनाम डीएम के नाम से उच्च न्यायालय में रिट संख्या 7046 दायर करके यह बताया था कि उक्त जमीन पर मेरे पूर्वजों का कब्रिस्तान है और वह कब्रिस्तान की जमीन है इसी तरह मोहम्मद बुद्धे बनाम प्रमुख सचिव राजस्व विभाग के नाम रिट संख्या 54 33 से उच्च न्यायालय में वाद दायर किया था जिसमें उनको वहां से कोई रिलीव नहीं मिला उसके बाद विपक्षी गढ़ जिला अधिकारी के यहां भी इस प्रकरण की सुनवाई के लिए प्रार्थना पत्र डाले थे वहां से भी उनको कोई रिलीव नहीं मिला उसके बाद फरवरी 2020 में कोतवाली के नए भवन बनने के लिए गाटा संख्या 1981 मी बटे जीरो पॉइंट 500 हेक्टेयर वाह गाटा संख्या 3712 क बटे जीरो पॉइंट 423 हेक्टेयर जमीन आवंटित कर दी गई आवंटित की गई जमीन को खाली कराने के लिए तहसील की टीम लगाकर उसका सीमांकन कराकर वहां पत्थर लगवाए गए उन्होंने बताया कि कोतवाली को आवंटित की गई जमीन तहसील अभिलेख में बंजर दर्ज है जमीन खाली कराने की कार्यवाही सुबह 11:00 बजे से शुरू होकर देर रात तक चलती रही फिलहाल मेन रोड की बेशकीमती करोड़ों की जमीन तहसील प्रशासन द्वारा खाली कराए जाने का चर्चा का विषय बना हुआ है अतिक्रमण हटाते समय कई थानों के थानाध्यक्ष लेखपालों की टीम के साथ-साथ भारी पुलिस बल मौजूद रहा

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.