अमेठी:अयोध्या बॉर्डर और पूर्वांचल एक्सप्रेस-वे का डीएम ने किया निरीक्षण

0
506

अमेठी: डीएम अरुण कुमार ने आज निर्माणाधीन पूर्वांचल एक्सप्रेस-वे का निरीक्षण करने पहुंचे। इस दौरान जिलाधिकारी ने वहां काम कर रहे मजदूरों को सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करते हुए कार्य करने के निर्देश दिए। डीएम अरुण कुमार ने कोरोना महामारी को देखते हुए वहां स्वास्थ्य विभाग की टीम बुलाकर मजदूरों का स्वास्थ्य परीक्षण भी कराया। जिससे पता चल सके की काम कर रहे सभी मजदूर स्वस्थ हैं अथवा नहीं। बता दें पूर्वांचल एक्सप्रेसवे सीएम योगी के ड्रीम प्रोजेक्ट में से एक है। लॉकडाउन के दौरान इसका निर्माण कार्य बीच में बंद हो गया था। लेकिन केंद्र सरकार द्वारा जारी एडवाइजरी के बाद फिर से कार्य शुरू कर दिया गया है। जिसका निरीक्षण करने आज डीएम अरुण कुमार पहुंचे थे लगभग 10 हजार श्रमिकों के साथ पूर्वांचल एक्सप्रेस-वे, बुंदेलखंड एक्सप्रेस-वे और गोरखपुर लिंक एक्सप्रेस-वे का निर्माण कार्य शुरू कर दिया गया है। जबकि प्रदेश के हॉटस्पॉट क्षेत्रों को छोड़कर वर्तमान में 7207 औद्योगिक इकाइयों को क्रियाशील किया गया है, जिनमें लगभग 1.30 लाख श्रमिक कार्यरत है। 26 अप्रैल को अपर मुख्य सचिव गृह ने लोकभवन में मीडिया को संबोधित करते हुए बताया था कि यूपीडा द्वारा 11,200 करोड़ रुपये की पूर्वांचल एक्सप्रेस-वे परियोजना पर 4975 श्रमिक, 8950 करोड़ की बुंदेलखंड एक्सप्रेस-वे परियोजना में 4481 श्रमिक व 3,000 करोड़ रुपये की गोरखपुर लिंक एक्सप्रेस-वे परियोजना में 488 श्रमिक कार्य कर रहे हैं। सिंचाई विभाग की 140 करोड़ रुपये की लागत से 73 परियोजनाएं प्रारम्भ हो गयी है, जिसमें लगभग 985 श्रमिक कार्य कर रहे हैं। उन्होंने बताया कि मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने निर्देश दिए हैं कि कोरोना के उपचार में लगी नर्स, पैरामेडिक्स तथा अन्य स्टाफ की टीम को हर हाल में इन्फेक्शन से बचाया जाए। कोरोना से जंग में मेडिकल टीम को सुरक्षित रखने के लिए आवश्यक है कि कोविड अस्पतालों में पर्याप्त संख्या में पीपीई किट, एन-95 मास्क की व्यवस्था सुनिश्चित की जाए। साथ ही अस्पतालों की साफ-सफाई सुनिश्चित करते हुए लगातार सैनिटाइजेशन किया जाए।

*अमेठी से सफीर अहमद की रिपोर्ट*

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.