कोरोना योद्धा बनकर लड़ रही नहुष की युवा टीम—

0
282

रिपोर्ट मुकेश मिश्रा

निगोहा की नहुष संस्था के सिपाही लाकडाउन में कोरोना यौद्धा बनकर लड़ रहे है।लगातार नहुष के 18 लोग खाना बनाने से लेकर जरूरतमदो तक रोज पहुचा भी रहे है।इन योद्धाओं ने अब तक हजारो परिवारों को नियमित पका पकाया भोजन रोजाना पहुचा रहे है।इन योद्धाओं की सेवा यही तक नही रही इस लाकडाउन मे कई जरुतमन्दों को अस्पतालों में खून भी डोनेट किया।

नहुष के सुरेन्द दीक्षित ने बताया कि लाकडाउन के लगने के बाद संस्था के सदस्यों ने ही अपने बारदाना को निकाल खुद ही खाना बनाना शुरू किया और रोजाना पहले शुरुआती दिनों में दिल्ली से आने वाले राहगीरो की सेवा शुरू की उन्हें दिन रात खाना बनाकर खिलाया फिर गांव-गांव गरीब बस्तियों में जाकर उनके खाने का प्रबंध शुरू किया।

रोज नए मीनू से खाना बनाते है——-

नहुष के देवेश बाजपेयी ने कहा उन्होंने रोज सुबह शाम एक अलग से मीनू बना रखा है।और रोजाना 500 लोगो को खाना उपलब्ध कराते है।इस मदद अभियान में उनकी नहुष के 18 सदस्य नियमित अपने-अपने काम को बखूबी निभाते है।

संकट की घड़ी में कई लोगो को खून भी डोनेट किया—–

इस लाकडाउन मे सोशल मीडिया पर खून की जरूरत होने का मैसज वायरल हुआ तो नहुष के योद्धा आगे आये और अस्पतालो में पहुचकर करीब आधा दर्जन लोगों को खून भी डोनेट किया।ये ऐसे लोग थे जिनसे नहुष के सदस्यों का कोई परिचय या रिश्ता भी नही था।

ये नहुष के है यौद्धा—–

भोजन व्यवस्था में लगे—

राकेश बाजपेई, डब्बू तिवारी, सुरेन्द्र दीक्षित,रमाकांत विश्वकर्मा, पंकज वर्मा, आकाश विश्वकर्मा, विकास विश्वकर्मा, बर्तन सफाई– आकाश विश्वकर्मा, योगेश बाजपेई, सफाई व्यवस्था नित्य– योगेश बाजपेई

,पैकिंग—सर्वेश बाजपेई, रोहित तिवारी, पंकज भारती,अजय कुमार,राघवेन्द्र सिंह,भोजन वितरण कार्य— अभय दीक्षित, सर्वेश बाजपेई, रजनीश शुक्ला, अजय कुमार,किसलय मिश्रा, प्रमोद वर्मा,सर्वेश शुक्ला (अतिरिक्त आकाश विश्वकर्मा, रोहित तिवारी,पंकज भारती, सामान लाने हेतु— पंकज भारती, सुधीर शुक्ला, कुनाल श्रीवास्तव,सर्वेश बाजपेई,हर कार्य में हम सम्मिलित— देवेश बाजपेई अध्यक्ष नहुष ग्राम सेवा समिति सामाजिक कार्यकर्ता,अधिवक्ता।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.