अमेठी: किसानों का शतप्रतिशत बनाया जाए किसान क्रेडिट कार्ड-डीएम

0
358

अमेठी: जिले के प्रधानमंत्री कृषक सम्मान निधि पाने वाले किसानों के लिए एक खुशखबरी है। किसान सम्मान निधि का लाभ पाने ऐसे सभी किसान जिन्हें केसीसी का लाभ नहीं मिला हैं, उन्हें बिना किसी परेशानी के कैम्प लगाकर केसीसी का लाभ दिया जाएगा।

शासन के निर्देशों के क्रम में जिलाधिकारी ने सभी बैंकों को निर्देश जारी कर दिए हैं। सोमवार को जिलाधिकारी श्री अरुण कुमार ने कैम्प कार्यालय में कृषि, बैंक तथा नाबार्ड के अधिकरियों के साथ बैठक रणनीति तय की। उन्होंने बताया कि प्रधानमंत्री किसान सम्मान योजना के तहत जिले में कुल 03 लाख 46 हजार किसान पात्रता श्रेणी में हैं, जिसमें से 01 लाख 87 हजार किसान ऐसे हैं।जिन्हें प्र्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि का लाभ मिला है। बतातेे चलें कि अमेठी समेत समूचे प्रदेश में कृषक सम्मान निधि के तहत किसानों को केंद्र सरकार की ओर से हर साल छह हजार रुपये दिए जा रहे हैं।

किसानों के हित को ध्यान में रखते हुए सरकार ने एक और पहल की है। इसके तहत सम्मान निधि के सभी लाभार्थियों की सूची बैंक शाखाओं में उपलब्ध कराई जाएगी ताकि निधि लाभार्थियों को भी किसान क्रेडिट कार्ड की सुविधा ले सकें। उन्होंने स्पष्ट किया कि जिन किसानों की केसीसी नहीं बनी है, उनकी केसीसी उसी बैंक से बनेगी जिस बैंक में किसान को किसान सम्मान निधि का लाभ मिल रहा है। केन्द्र सरकार की सलाह पर इन्डियन बैंक एसोशिएसन ने तीन लाख रूपए तक के किसान क्रेडिट कार्ड बनाए जाने की प्रक्रिया में लगने वाले सभी शुल्क खत्म कर दिए हैं। यदि केसीसी पहले से असंचालित है तो उसे एक्टिव कराने के साथ ही लिमिट बढ़ाने के लिए आवेदन कर सकते हैं। इसके साथ ही केसीसी धारक किसानों को पशुपालन या मत्स्य पालन के लिए लिमिट बढ़ाना चाहते हों तो वे जमीन के दस्तावेजों के साथ बैंक प्रबन्धक से सम्पर्क कर सकते हैं। जिलाधिकारी ने बताया कि शासन की मंशा है कि प्रधानमंत्री किसान सम्मान योजना से लाभान्वित शेष किसानों को शीघ्र ही बैंक केसीसी उपलब्ध करा दें। इसके लिए किसान अपने संबंधित बैंक शाखा पर जाकर एक फार्म व खेत के कागजात बैंक में जमा कराकर किसान क्रेडिट कार्ड बनवा लें। शाखा प्रबंधक किसानो को 14 दिनों के अंदर किसान क्रेडिट कार्ड उपलब्ध कराएंगे। किसान क्रेडिट कार्ड पर अब मत्स्य पालन के लिए भी लोन मिलेगा। जिलाधिकारी ने लीड बैंक मैनेजर को निर्देश दिए हैं कि रोस्टर जारी करते हुए जिले की सभी बैंक शाखाओं पर बैैनर लगवाकर केसीसी कैम्प लगवाएं जिससे जिले के किसान सम्मान निधि पाने वाले ज्यादा से ज्यादा किसानों को केसीसी का लाभ तथा प्र्रधानमंत्री सुरक्षा बीमा योजना, जीवन ज्योति योजना आदि के लाभ एक ही जगह पर दिए जा सकें।

जिलाधिकारी ने जिले के किसानों से अपील की है कि वे अवसर का लाभ उठाने के लिए बैंक में जाकर आवेदन फार्म के साथ जरूरी कागजात जमा कर दें जिससे जल्द से जल्द उन्हें केसीसी सहित अन्य योजनाओं का लाभ दिया जा सके। बैठक में मुख्य विकास अधिकारी प्रभुनाथ, उप निदेशक कृषि सत्येंद्र चौहान, मुख्य पशु चिकित्सा अधिकारी डॉ रमेश पाठक सहित बैंकर्स मौजूद रहे।

अमेठी से सफीर अहमद की रिपोर्ट

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.