अमेठी:पीड़ित व्यक्ति की समस्याओं को गंभीरता से सुनकर करें निस्तारण – सीडीओ

0
356

अमेठी:  संपूर्ण समाधान दिवस का आयोजन किया गया। मुख्य विकास अधिकारी प्रभुनाथ की अध्यक्षता में तहसील अमेठी में संपूर्ण समाधान दिवस आयोजित हुआ। इस दौरान संपूर्ण समाधान दिवस में सीडीओ ने फरियादियों की जन समस्या सुनकर मौके पर अधिकारियों को निर्देश देते हुए कहा कि शिकायतें लंबित न रखी जाये।, शिकायतों को गम्भीरता से लिया जाये, प्राप्त शिकायतों का निस्तारण कर निस्तारित शिकायतों को समय से अपलोड किया जाए।

उन्होंने कहा कि संपूर्ण समाधान दिवस में राजस्व विभाग की सबसे ज्यादा शिकायतें आती हैं जिसमें अवैध कब्जा, नाली, खड़ंजा से संबंधित शिकायतें प्राप्त हुई हैं उन्होंने लेखपालों को निर्देश दिए कि गांव में जाकर निरंतर भ्रमण कर अवैध कब्जा सहित छोटे-मोटे विवाद निपटाएं।
मुख्य विकास अधिकारी ने अधिकारियों को निर्देश दिये कि ग्रामीणों के शिकायती पत्र प्राप्त होते ही तुरन्त कार्रवाई अमल में लाई जायें। ताकि तत्समय मौके पर ही निस्तारण किया जा सके। सीडीओ ने निर्देश दिये कि जन सामान्य के कल्याणार्थ संचालित विभिन्न सरकारी योजनाओं का लाभ पात्र लोगो को दिया जाना सुनिश्चित किया जाये। उन्होंने कहा शासन द्वारा संचालित योजनाएं पात्र व्यक्ति तक अवश्य पहुंचनी चाहिए। मुख्य विकास अधिकारी ने कहा कि शासन जन समस्याओं के निस्तारण के प्रति अत्याधिक गम्भीर है और इसमें उदासीनता एवं लापरवाही क्षम्य नही होगी। उन्होंने समस्त अधिकारियों निर्देश दिए कि अपने-अपने कार्यालय समय से पहुंचे व जन समस्याएं सुनकर उनका निस्तारण करना सुनिश्चित कराएं। आज संपूर्ण समाधान दिवस के दौरान देर से आए 17 अधिकारियों का डीएम ने स्पष्टीकरण प्राप्त करने के निर्देश दिए।

जानकारी हो कि जिलाधिकारी की गैरमौजूदगी में जहाॅ सीडीओ साहब संपूर्ण समाधान दिवस में समस्याएं सुन रहे थे वहीं कुछ अधिकारी कर्मचारी सभागार के पुलिस उपाधीक्षक आफिस के पीछे समय लगभग 11 बजे मौज-मस्ती में दिखे। इस अवसर पर पुलिस अधीक्षक डा0 ख्याति गर्ग उपजिलाधिकारी योगेन्द्र सिंह तहसीलदार पल्लवी सिंह, सीडीपीओ प्रवीण कुमार, सहित समस्त जिला स्तरीय अधिकारी उपस्थित रहे।
संपूर्ण समाधान दिवस प्रभारी मुख्य विकास अधिकारी ने दूरभाष नम्बर 9454465472 पर बताया कि अनुपस्थिति कर्मचारियों की जानकारी एसडीएम से पूछकर बताते है पुनः फोन कर जानकारी दी जिला उद्यान अधिकारी का वेतन रोकने व स्पष्टीकरण का निर्देश दिया गया है कुछ कर्मचारी अधिकारी सभागार के बाहर मौज-मस्ती करते दिखे जिसपर मुख्य विकास अधिकारी ने कहा कि फोटो भेजिए तब हम देखते है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.