सुल्तानपुर:राम गुलाम द्विवेदी व्यक्ति नहीं सेवा रूपी संस्था थे: सीएमओ

0
297

सुलतानपुर: जिले के लोकतंत्र सेनानी, राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के वरिष्ठ कार्यकर्ता, पूर्व जिला कार्यवाह तथा वनवासी कल्याण आश्रम के क्षेत्रीय संगठन मंत्री रहे राम गुलाम द्विवेदी की श्रद्धांजलि सभा में मुख्य चिकित्साधिकारी डाॅ. सी.बी0एन. त्रिपाठी ने कहा कि श्री द्विवेदी एक व्यक्ति नहीं एक संस्था के रूप में थे।

उन्होंने अपने आचार व्यवहार से लोगों को प्रभावित कर सेवा के क्षेत्र में अतुलनीय योगदान दिया है, जिसे भुलाया नहीं जा सकता है।नगर स्थित सरस्वती शिशु मन्दिर विवेकानन्दनगर के सभागार में बीते 14 सितम्बर को दिवंगत स्व0 राम गुलाम द्विवेदी की श्रद्धांजलि सभा का आयोजन किया गया, जिसमें बाल कल्याण समिति के पूर्व मंत्री विश्वम्भर दयाल श्रीवास्तव ने कहा कि जिले में उनके कार्य का लेखा जोखा हो तो लम्बी लिस्ट बनेगी। वह बोलते कम और काम अधिक करते थे। राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के प्रान्त बौद्धिक प्रमुख डाॅ. रमाशंकर पाण्डेय ने कहा कि जब कोई समाज और संगठन के प्रति समर्पित होता हैं तो उसके प्रति लोगो की श्रद्धा स्वयं ही बढ़ जाती है। कार्यक्रम को सम्बोधित करते हुए सरस्वती विद्या मन्दिर वरिष्ठ माध्यमिक विद्यालय के प्रधानाचार्य राम सिंह ने कहा कि स्व0 द्विवेदी ने अपनी स्वयं सेवकत्व को न सिर्फ समाज में उतारा बल्कि अपने परिवार के सदस्यों को संगठन से जोड़कर संगठन को उनके तक पहुंचाया है। उनकी इस कार्यशैली का अनुशरण करना ही उन्हें सच्ची श्रद्धांजलि है। इससे पहले संघ के वरिष्ठ जनों में राजेन्द्र कुमार लोहिया, श्रीराम आर्य, नरोत्तमदास कानोडिया, भोलानाथ अग्रवाल आदि ने सम्बोधित किया। संचालन संघ के जिला कार्यवाह पवनेश मिश्र ने किया। अंत में सभी ने दो मिनट का मौन रखकर अपनी श्रद्धांजलि अर्पित की।

इस अवसर पर राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के जिला प्रचारक प्रवेश जी, विभाग कार्यवाह नवीन श्रीवास्तव, विभाग संघचालक डाॅ. रमाशंकर मिश्र, डाॅ. जे.पी. सिंह, डाॅ. एम.पी. सिंह, पूर्व मंत्री ओम प्रकाश पाण्डेय, गोवर्धनदास कानोडिया, डाॅ. सीताशरण त्रिपाठी, डाॅ. ए.के. सिंह, बाल कल्याण समिति के मंत्री रूपेश कुमार सिंह, आनन्द द्विवेदी, पूर्व नगर पालिका अध्यक्ष प्रवीण अग्रवाल, सरस्वती विद्या मन्दिर के प्रबन्धक एच.डी.राम, जगदीश सिंह संत, राजन चैधरी आदि मौजूद रहे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.