भाकियू: बढ़ी बिजली की दरों को सरकार वापस ले

0
94

मोहनलालगंज: लखनऊ भारतीय किसान मजदूर संयुक्त यूनियन के पदाधिकारियों व किसानों ने अधिशासी अभियंता बिजली विभाग कार्यालय का घेराव कर जोरदार प्रदर्शन किया।

मोहन लालगंज अधिशाषी अभियंता बिजली विभाग के विरूद्ध किसानो ने आक्रोश व्यक्ति किया । एक दिवसीय विशाल धरना प्रदर्शन में राष्ट्रीय उपाध्यक्ष हृदय राम वर्मा ने भाजपा सरकार पर आरोप लगाया कि किसानो का शोषण बर्दास्त नहीं किया जाएगा ।केन्द्र से लेकर राज्य तक किसान विरोधी नीतियां अपनाई जा रही है ।जो पूर्णतया अनुचित है अन्य राज्यो की अपेक्षा यूपी में सबसे अधिक बिजली बिल वसूल किया जा रहा है इसे तत्काल प्रभाव से सरकार वापस ले ।

भारतीय किसान मजदूर संयुक्त यूनियन के राष्ट्रीय प्रवक्ता भूपेंद्र रावत ने जमकर सरकार की नीतियों का व्याख्यान किया की किसान ,मजदूर ,व्यापारी नौकरी करने वाले सभी सरकार की नीतियों से त्रस्त है । इस मौके पर मीडिया प्रभारी शेर बहादुर सिंह यादव ,प्रदेश अध्यक्ष ब्रज किशोर यादव, मण्डल अध्यक्ष राजकुमार यादव , जिला महामंत्री राजबहादुर सिंह , राम इक़बाल तिवारी व तहसील अध्यक्ष राम बिनोद सिंह करन रावत के कुशल नेतृत्व में फुलवरिया पावर हाउस मोहन लाल गंज के समीप सैकड़ो की संख्या में यूनियन के पदाधिकारियों व कार्यकर्ताओं ने प्रदर्शन कर बिजली की बड़ी हुई दरों को वापस लेने व ग्रामीण किसानों को गलत विधुत बिल सही करने , ग्रामीण क्षेत्रो में अघोषित बिजली की कटौती करने सहित अपने विभिन्न मुद्दों का ज्ञापन पत्र बिजली विभाग के अधिशासी अभियंताआर एन वर्मा, न्यायिक तहसीलदार ज्ञानेंद्र द्विवेदी को दिया । तहसीलदार न्यायिक ज्ञानेंद्र द्विवेदी ने धरने में उपस्थित सभी किसानों को आश्वासन दिलाया कि उनके द्वारा की गई मांगो का मांगपत्र शासन तक पहुचा कर पूरा कराने का भरोसा दिलाया तब जाकर किसान शांत हुए । मौके पर प्रभारी निरीक्षक जीडी शुक्ला , व सेकंड प्रभारी निरीक्षक रफी आलम सहित भारी पुलिस फोर्स तैनात थी। किसान नेताओ ने रेलवे स्टेशन मोहन लाल गंज में ट्रेनों का ठहराव , आवारा जानवरो पर अंकुश लगाने सहित किसानों की करीब 40 सूत्रीय मांगों का ज्ञापन पत्र प्रशासन को सौंपने के बाद यूनियन के वरिष्ठ कार्यकर्ताओ को अंग वस्त्र भेट किया, तथा धरना प्रदर्शन समाप्त कर दिया ।

शिव बालक गौतम की रिपोर्ट

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.