उत्तराखंड:कही बारिश बनी आफत तो कहीं सूखे की मार झेल रहा किसान

0
307

ये कैसा कुदरत का चमत्कार कि उत्तराखंड के पहाड़ी क्षेत्रों बारिश आफ़त बन कर टूट पड़ी है,बारिश से पहाड़ी इलाको में लोगो का जीना मुश्किल है।पहाड़ी क्षेत्र में बारिश ने हाहा कार मचाया हुआ है। तो वहीं उत्तराखण्ड के मैदानी क्षेत्र उधम सिंह नगर में कम बारिश होने के कारण  बारिश किसानों के लिए एक बरदान साबित हो रही है। किसानों की फसलों के लिए बारिश से पर्याप्त मात्रा में पानी की कमी पूरी हो रही है जिससे मैदानी क्षेत्र के किसानों के चेहरे खिले हुए नज़र आ रहें हैं।।

वीओ – उत्तराखंड के पर्वतीय क्षेत्र में बारिश ने अपना कहर बरपाया हुआ है,लोग हो रही बारिश से त्राहि त्राहि कर रहें हैं।पहाड़ो के दरकने से मार्ग बंद होने से भारी दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है। बढ़ पीड़ितों को राहत पहुंचाने बाली हेली सेवा भी बाधित हो रही है दो बढ़ हवाई सेवा पहुंचाने बाले हेली दुर्घटनाग्रस्त हो गए तो वहीं उत्तराखंड के मैदानी क्षेत्र उधम सिंह नगर में कम बारिश है अभी तक कहीं भी बाढ़ जैसे स्थिति नही आई है पड़ रही बारिश उधम सिंह नगर में गर्मी आए राहत पहुंचाने का काम कर रही है। कम बारिश से किसानों की फसलों को भी लाभ मिल रहा है । बारिश से मैदानी क्षेत्र में कम बारिश से किसानों की फसलों को पर्याप्त मात्रा में पानी की पूर्ती हो रही है। अभी तक सभी किसान खुश दिखाई दे रहें हैं जो इस बार की बारिश किसानों के लिये बरदान से कम नही है।

वीओ – आप देख सकते हैं इन तस्वीरों में की पर्वतीय क्षेत्रों में तो बारिश से हाहाकार मचा हुआ है तो वहीं मैदानी क्षेत्रों में किस प्रकार किसानों की धान की फसलें लहरा रही हैं मानो की जैसे फैसले मौसम का भरपूर आनंद ले रहीं हैं। इस समय धान की फसल को सबसे अधिक पानी की जरूरत होती है जिसे फसलों को कम बारिश होने के चलते पर्याप्त पानी मिल रहा है किसानों की इस बार अभी तक बारिश से कोई फसल को नुकसान नही हुआ है नदी नालों के किनारे उग रही फसल अभी सुरक्षित हैं। गन्ने की फसल को भी भारी लाभ मिल रहा है। किसान इस बक्त खुश नजर आ रहा है क्यों कि इस बार उनकी फसल सही सलामत है।


उत्तराखंड से अर्जुन कुमार की रिपोर्ट

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.