मोहनलालगंज-सर्राफा की दुकान पर चोरी करते दो महिलाएं गिरफ्तार कर भेजी गई जेल

0
513

मोहनलालगंज कोतवाली क्षेत्र में शुक्रवार को गैर जनपद से आई महिलाओं ने ज्वेलर्स की दुकान में सामान खरीदने के बहाने ज्वेलरी में हाथ साफ कर दिया । जिन्हें सीसीटीवी फुटेज के आधार पर दोनों महिलाओं को पुलिस ने गिरफ्तार कर जेल भेज दिया
कोतवाली क्षेत्र के सिसेंडी में आनंदी महाराज ज्वेलर्स की दुकान में दो महिलाओं ने चोरी की घटना को उस समय अंजाम दे डाला इसी दुकान में ज्वेलरी खरीदने के बहाने दुकान में दाखिल हुई और शातिराना हाथ दिखाते हुए ज्वेलरी पर हाथ साफ कर दिया दुकानदार कुछ समझ पाता उससे पहले रफू चक्कर होने लगी घटना समझते ही पुलिस को सूचना दी मौके पर पहुंची पुलिस ने सीसीटीवी के आधार पर जांच कर दोनो महिलाओं को दुकान से ज्वेलरी चोरी करते हुए देखा l सिसेंडी में
दुकान मालिक आदित्य की सूचना पर पुलिस ने सीसीटीवी फुटेज देखकर मोहनलालगंज प्रभारी निरीक्षक जीडी शुक्ला के नेतृत्व में एक टीम तैयार की गई जिसमें महिला उपनिरीक्षक शशीकला सिंह हेड कांस्टेबल सत्येंद्र सिंह हेड कांस्टेबल शशी बाला सिंह टीम ने सिसेंडी ,उत्तर गांव ,कस्बा मोहनलालगंज में इन महिलाओं को खोजते हुए हरकंशगढ़ी पुल पर बैठी कहीं जाने की फिराक में थी पुलिस के साथ मौजूद दुकान मालिक ने पुल पर बैठी महिलाओं को देखते ही पहचान लिया और पुलिस को जानकारी दी पुलिस टीम ने दोनों महिलाओं को पुल से दोपहर को गिरफ्तार कर थाने ले आई और पूछताछ में अपना नाम छुन्ना तिवारी पत्नी राजेंद्र तिवारी, बबली तिवारी पत्नी सोनू तिवारी निवासिनी गण बाजार टोला थाना बेनीगंज जनपद हरदोई बताया जामा तलाशी में 8 जोड़ी चांदी की पायल 400 ग्राम 10 जोड़ी चांदी की बिछिया लगभग 100 ग्राम कुल 500 ग्राम की चांदी बरामद हुई गिरफ्तार करने वाली टीम में महिला उपनिरीक्षक शशिकला सिंह हेड कांस्टेबल सत्येंद्र सिंह हेड कांस्टेबल शशिबाला सिंह टीम ने पकड़ने में मदद की, वही ग्रामीणों के अनुसार इन महिलाओं के साथ एक पुरुष व्यक्ति भी था जो पुलिस की गिरफ्त से कोसों दूर है l
पूछताछ में चोरी करने वाली महिलाओं ने बताया कि आनंदी ज्वेलरी शॉप पर ज्वेलरी दिखाने को कहा जैसे ही दुकानदार दूसरी ज्वेलरी उठाने गया इन ठग महिलाओ ने ज्वेलरी भरे बॉक्स को दुकानदार से नजरें बचाकर अपने पर्स में रख लिया था लेकिन शंका होने पर दुकानदार ने रोककर फुटेज चेक किया तो चोरी पकड़ी गई ।

शिव बालक गौतम की रिपोर्ट

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.