शिवगढ़- नहर में डूबकर बाइक सवार युवक की दर्दनाक मौत

0
507

शिवगढ़,रायबरेली।  बाइक सवार युवक की संदिग्ध परिस्थितियों में शिवगढ़ रजबहा में डूबकर दर्दनाक मौत हो गई। घटना की खबर से क्षेत्र में हड़कंप मच गया।पुलिस एवं ग्रामीणों ने करीब डेेेढ़ घंटे की कड़ी मशक्कत के बाद मृतक का शव घटनास्थल से करीब 500 मीटर दूर निंबड़वल साइफन के पास खोज निकाला। पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पीएम के लिए भेज दिया है।घटना शिवगढ़ थाना क्षेत्र के बेड़ारु गांव की है। जानकारी के मुताबिक बुधवार को सायं करीब 7 बजकर 30 मिनट पर गांव के लोगों ने एक बाइक का अगला हिस्सा शिवगढ़ रजबहा में डूबा और पिछला हिस्सा बाहर देखकर हादसे को भाप लिया जिसकी खबर से कुछ ही पलों में घटनास्थल पर लोगों का मजमा लग गया। लेकिन पानी का तेज बहाव होने के चलते पानी में उतरने की कोई हिम्मत नहीं जुटा पाया।तभी घटनास्थल पर आए गांव के एक युवक ने बाइक के नंबरों से बाइक को पहचान लिया और शहर में रह रहे मृतक संतराम के बेटे को सूचना दी कि फूफा की बाइक शिवगढ़ रजबहा में पड़ी है फूफा का कहीं पता नहीं चल रहा है। जिसके बाद मृतक के बेटे ने फोन से परिजनों को सूचना दी। जिसके बाद मृतक संतराम पुत्र रामेश्वर निवासी भैरमपुर मजरे बैंती से पहुंचे मृतक के परिजनों ने घटनास्थल पर मौजूद लोगों से घटना के विषय में जानकारी लेने की काफी कोशिश की किंतु घटना के विषय में परिजनोंं को किसी से संतोष जनक जानकारी नहीं मिल पाई। जिसके बाद परिजनों की सूचना पर मय फोर्स के आनन-फानन में पहुंचे शिवगढ़ थाना प्रभारी निरीक्षक अजीत कुमार विद्यार्थी ने सिंचाई विभााग के आला अधिकारियों को फोन पर सूचना देकर ऊपर से पानी तो बंद करा दिया किंतु इतनी जल्दी पानी का तेज बहाव कम नहीं हो सका। शिवगढ़ थाना प्रभारी निरीक्षक ने बड़ी ही सूझबूझ से काम लेते हुए तैराक युवकोंं को एक मोटे रस्से के सहारे पानी में उतारा। तैराक युवको ने साहस दिखाते हुए घटनास्थल के आसपास युवक को काफी खोजने की कोशिश की किंतु जब युवक वहां कोई पता नहीं चला तो। रस्से के सहारे तैराक आगे खोजने लगे। पुलिस एवं ग्रामीणों ने करीब डेढ़ घंटे की कड़ी मशक्कत के बाद रात 8 बजकर 57 मिनट पर मृतक के शव को निबडवल साइफन के पास खोज निकाला।


किंतु नियति को कुछ और ही मंजूर था तब तक काफी देर हो चुकी थी। युवक की मौत की खबर से परिजनों में कोहराम मच गया पुलिस ने मृतक के शव को अपने कब्जे में लेकर पीएम के लिए भेज दिया है। मृतक के छोटे भाई माताफेर ने बताया कि भैया सुबह 11 बजे घर से निकले थे जो नगराम थाना क्षेत्र के भजा खेड़ा गांव के रहने वाले अपने बड़े दामाद के साथ मझली बेटी के यहां पड़ीरा खुर्द गए थे। जहां से शाम करीब 3 बजे दोनों ससुर दामाद रिश्तेदारी में अमावां दोस्तपुर गए थे। भैया के दामाद ने बताया कि अमावां दोस्तपुर में उन्हे नींद आ गई और भैया बिना बताए चाभी लेकर घर के लिए निकल पड़े। जिसके बाद सूचना मिलने पर बेड़ारु जाकर देखा गया था भैया की बाइक शिवगढ़ रजबहा में किनारे अधडुबी पड़ी थी। मृतक के छोटे भाई माताफेर ने मृतक संतराम के सर में लगी चोटों के निशान देखकर संदेह व्यक्त करते हुए शिवगढ़ पुलिस से मामले की गहनता से जांच कराने की मांग की है।मृतक की पत्नी राजवती ,पिता रामेश्वर पुत्र मनोज,अनुज पुत्री अनीता,विनीता,रीता,गीता का रो- रोकर बुरा हाल है। शिवगढ़ प्रभारी निरीक्षक अजीत कुमार विद्यार्थी ने बताया कि मृतक संतराम के शव को कब्जे में लेकर पीएम के लिए भेज दिया गया है। पीएम रिपोर्ट आने के बाद ही कुछ कहा जा सकता है।

संतराम को शहर से मौत खींच लाई

बताते ही संतराम शहर में रहकर मेहनत मजदूरी करता था जो एक दिन पूर्व ही मंगलवार को शहर से वापस आया था और आज सायं करीब 3 बजे अपनी मंझली बेटी के यहां पड़ीरा खुर्द गया था। जहां से वापस लौटने के बाद घर ना जाकर अपने दामाद के साथ भजा खेड़ा गया था जहां दामाद को छोड़कर युवक वापस घर आ रहा था। बेड़ारु गांव में ही युवक की ससुराल और बहन बेही है जहां जाने से पहले ही युवक पानी में डूबकर काल के गाल में समा गया।

ब्यूरो रिपोर्ट मनीष अवस्थी(बीनू)

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.