अधिकारियों की उदासीनता के चलते हजारों लीटर पानी टोटी ना होने की वजह से नालियों में बह रहा

0
376

महराजगंज/रायबरेली: जहां देश में इस भीषण गर्मी में लोग एक एक बूंद पानी के लिए तरस रहे हैं तो वही रायबरेली जनपद की आदर्श नगर पंचायत में बैठे कर्मचारियों व अधिकारियों की उदासीनता के चलते महराजगंज नगर पंचायत में हजारों लीटर पानी टोटी ना होने से नालियों में बह रहा है जिसका पुरसाहाल जानने वाला कोई नहीं है। जबकि, कई बार इसकी शिकायत नगर उद्योग व्यापार प्रतिनिधि मंडल के अध्यक्ष रिंकू जायसवाल ने उपजिलाधिकारी व अधिशासी अधिकारी को शिकायती पत्र देकर टोटी से बह रहे पानी रोकने की मांग की थी।
आपको बता दें कि, नगर पंचायत महराजगंज के प्रत्येक वार्ड के घरों में सप्लाई हेतु पानी के कनेक्शन रेवड़ी की तरह बांट दिए गए है तथा सार्वजनिक स्थानों पर भी लोगों को पीने के लिए पानी की सप्लाई उपलब्ध कराई गई लेकिन, कस्बे के अनेक जगहों पर स्टैंड पोस पानी की सप्लाई की पाइप में टोटी ना होने के चलते अनावरत पानी बहता रहता है। जिससे जल संरक्षण को बढ़ावा देने का नारा फ्लॉप साबित हो रहा है और प्रतिदिन हजारों लीटर पानी टोटी ना होने की वजह से बह रहा है। जिसको देखने और सुनने वाला कोई नहीं है। जबकि, इस गंभीर समस्या के बारे में व्यापार मंडल अध्यक्ष रिंकू जायसवाल ने उप जिलाधिकारी, अधिशासी अधिकारी तथा जिला अधिकारी के तहसील दिवस में भी शिकायती पत्र देकर सभी स्टैंड पोस जगहों पर टोपी लगाए जाने की मांग की थी।
वही मामले में नगर पंचायत महराजगंज के अधिशासी अधिकारी पवन किशोर मौर्य का कहना है कि, पिछले 6 माह से नगर पंचायत में अभियान चलाकर ऐसे स्टैंड पोस जो, गैर जरूरी है उनको बंद किया जा रहा है। लोगों को घरेलू कनेक्शन के लिए ज्यादा से ज्यादा प्रेरित किया जा रहा है। उन्होंने आगे बताया कि, अभी हाल ही में 2019 लोकसभा चुनाव की वजह से व्यस्तता होने के कारण नगर पंचायत के कार्यों में कुछ लचर पन आ गया था लेकिन, अब पुनः इस अभियान में तेजी लाई जाएगी। सभी अवैध कनेक्शनों को एवं गैर जरूरी स्टैंड पोस को बंद किया जाएगा।
नगर पंचायत महराजगंज के अधिशासी अधिकारी पवन किशोर मौर्य ने यह भी बताया कि, पूर्व में जो अभियान चलाया गया था उसमें लगभग 35 लोगों ने नया घरेलू कनेक्शन लिया था और लगभग 35 स्टैंड पोस कनेक्शन बंद किए गए थे।

शिवम अवस्थी की रिपोर्ट

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.