मजदूर की मौत के बाद अनाथ परिवार की मदद के लिए बढ़े कई हाथ

0
465

(सब रजिस्ट्रार सहित मोहनलालगंज इंस्पेक्टर आये पीङित परिवार की मदद को आगे,आर्थिक मदद के साथ ही खाने ले लिये मुहैया कराया राशन)

मोहनलालगंज।निगोहां बाजार से सब्जी लेकर लौट रहे मजदूर को सांड ने पीटकर मार डाला था। इसके बाद मजूदर की माँ और मासूम बेटा अनाथ हो गया था।जिसकी खबर समाचार पत्रो में प्रमुखता से छापी थी।जिसके बाद बुधवार को सब रजिस्ट्रार सहित मोहनलालगज इंस्पेक्टर ने मदद के लिए हाथ बढ़ाये ओर गाँव पहुँचकर आर्थिक मदद देने के साथ ही खाने के लिये राशन मुहैया कराया। वही जिला प्रोवेशन अधिकारी ने गांव में टीम भेजकर परिवार का हाल लिया और बेटे की पढ़ाई के लिए हर माह दो हजार पालन पोषण स्कीम के तहत महिला कल्याण निदेशालय फार्म भरकर भेजा है।

निगोहां के शेरपुर लवल गांव निवासी मजदूर प्यारे  55 रविवार की शाम निगोहां कस्बे से सब्जी लेकर घर जा रहा था। तभी लवल गांव किनारे एक आवारा सांड ने उसे दौड़ा कर पटक दिया था। जिसके बाद मजदूर की मौत हो गयी थी। और आर्थिक तंगी के चलते भांजे मुकेश ने अंतिम संस्कार किया था। और माँ  विशुना बेटा दसरथ अनाथ हो गया।जिसकी खबर हिन्दुस्तान ने प्रमुखता से प्रकाशित की इसके बाद मोहनलालगज सब रजिस्ट्रार शालिनी अवस्थी ने मदद के लिए हाथ आगे बढ़ाया और समाजसेवियों ललित दीक्षित ,अनुपम मिश्रा के हाथ दस हजार नगद भेजकर आर्थिक मदद की वही इंस्पेक्टर मोहनलालगज जीडी शुक्ला ने पीङित के घर पहुँच कर मृतक की बुजुर्ग विधवा माँ को 21सौ रूपये की आर्थिक मदद देने के साथ ही राशन दिया।उधर बुधवार को ही जिला प्रोवेशन अधिकारी सुधाकर शरद पांडेय ने विभाग के अजय कुमार की अगुवाई में टीम भेजी और माँ बेटे को सरकारी होम भेजने की बात कही इस राजी न होने पर पालन पोषण स्कीम के तहत फार्म भरवाया जिसके तहत स्वीकृति होने पर दो हजार बेटे की देखभाल के लिए मिलने लगेंगे।

रिपोर्ट अभय दीक्षित

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.