प्राचीन मंदिर के जीर्णोद्धार रोके जाने से नाराज ग्रमीणों ने हाइवे जाम किया

0
331

पुलिस ने लाठी पटककर हाइवे का जाम खुलवाया

एसडीएम सीओ के आश्वासन के बाद ग्रामीण शान्त हुए

निगोहा के मदाखेड़ा चौराहे पर बने प्राचीन मन्दिर का जीर्णोद्धार रोके जाने से नाराज ग्रामीण व महिलाएं मंगलवार दोपहर उग्र हो गए और वही मंदिर के सामने लखनऊ-रायबरेली हाइवे जाम कर प्रदर्शन शुरू कर दिया।सूचना पर पहुचीं पुलिस ने लाठियां पटककर जाम खुलवाया और जाम लगाए लोगो को शान्त करवाया इस बीच नाराज ग्रामीणो ने पुलिस के ही सामने एसडीएम के खिलाफ नारेबाजी शुरू कर दी इस पर सूचना पर एसडीएम सीओ मोहनलालगज मौके पर आए और बुधवार को दोनो पक्षो को तहसील बुलाकर निस्तारण का आश्वासन दिया जिसके बाद ग्रामीण शान्त हुए।

ग्रामीणो ने बताया कि 115 साल पुराना प्राचीन मंदिर हाइवे निर्माण के दौरान नीचे हो गया था। जिसका जीर्णोद्धार कराने के लिए ग्रामीणो निर्माण सामग्री गिराकर काम शुरू कराने की तैयारी कर रहे थे। आरोप इसी बीच लोग मंदिर का एक हिस्से को गिराकर उसमें भवन निर्माण शुरू कराया दिया।और विरोध करने पर अपनी जमीन बताने लगे इसकी शिकायत पर सोमवार मौके पर पहुचे एसडीएम ने यथास्थिति बनाये रखने का आदेश दे दिया था। इसको को लेकर ग्रामीणो का खासी नाराजगी थी।और इसी से नाराज ग्रामीणो महिलाओ ने मंगलवार दोपहर हाइवे जाम कर प्रदर्शन शुरू कर प्रशासन के खिलाफ नारेबाजी शुरू कर दी जिसकी जानकारी पर मौके पर पहुचे एसओ जगदीश पांडेय लाठियां पटककर जाम खुलवाया इसके बाद एसडीएम सूर्यकान्त त्रिपाठी व सीओ राजकुमार शुक्ला ने मौके पर पहुचकर ग्रामीणो को शान्त कराकर बुधवार तहसील दोनो पक्षो को बुलाकर मामला निपटाने के साथ मंदिर निर्माण कराये जाने का आश्वासन दिया जिसके बाद ग्रामीण शान्त हुए। एसडीएम सूर्यकान्त त्रिपाठी ने बताया कि बुधवार को दोनो पक्षो को बुलाया गया है।इसके बाद बातचीत हल निकालकर मंदिर निर्माण कराया जाएगा।

रिपोर्ट अभय दीक्षित

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.