मोहनलालगंज-गावों में बजबजा रही नालिया,सफाई कर्मी नदारत

0
409

मोहनलालगंज: क्षेत्र में तैनात सफाई कर्मी अपनी ड्यूटी करने गाँव में न आने से ग्रामीणों में रोष व्याप्त है , ग्रामीणों ने बताया कि कुछ सफाई कर्मी एक आध मजदूर रखकर क्षेत्र के कुछ गाँव में थोड़ी बहुत गांव की साफ-सफाई कराते हैं, परंतु कुछ सफाई कर्मी जो अपने आप को राजनीतिक पहुंच वाला मानते हैं वह अपनी ड्यूटी पर कतई नहीं जाते हैं यही आलम है मीरक नगर, मोहनलालगंज ,डेहवा, अतरौली , मऊ में सफाई कर्मियों का टोटा है विभागीय अधिकारियों को इसकी जानकारी भी है कुछ सफाई कर्मी ,विकास भवन में मुख्य विकास अधिकारी कार्यालय में तैनाती का रुतबा दिखाकर खंड विकास अधिकारियों पर दबाव बनाते है , साठ गाठ के कारण कुछ तो विकास खंड कार्यालय पर ही बाबू गिरी का काम करते है ,अपनी जगह पर दूसरे कर्मचारी को रख कर पगार दे रहे है ,खुद कभी भी सफाई करने नहीं जाते है ,अब ऐसे में देखना है कि जिम्मेदार अधिकारी क्या कार्यवाही करते है क्यो कि लगभग सभी गावों में नालिया बजबजा रही है ,बरसात होते ही संक्रामक रोग पैर पसारने लगते है जबकि पिछले वर्षो में मोहनलालगंज क्षेत्र में डेंगू रोग फैलने से दर्जनों मौते हो चुकी है सरकार का धन वेतन के रूप में जो दिया जा रहा है उसका दुरुपयोग हो रहा है , जब ग्रामीण छोटेलाल, नन्हे प्रसाद, नवमी लाल, पप्पू व गणेश से बात की गई तो उन्होंने बताया कि हमारे यहां कौन सा सफाई कर्मी तैनात है हमने उसे कभी गांव की साफ- सफाई करते हुए कभी देखा ही नहीं हैI तो हम उसे कैसे पहचानेंगे ,
निगोहा क्षेत्र की ग्राम पंचायत मीरक नगर और मजरे कासिमपुर , भैरमपुर गांव के लोगों ने सफाई कर्मी रामगोपाल बाजपेई के गाँव में सफाई न करने के कारण विरोध व्यक्त किया है । वहीं जब इस मामले में गाँव के प्रधान प्रतिनिधि मनीष वर्मा से बात की गई तो बताया कि सफाई कर्मी गाँव में नही आता है सफाई करने के लिए बोला था लेकिन कहीं भी सफाई नहीं की , खुद मौज उड़ाता है । शिकायत करने पर कोई सुनवाई नहीँ होती है । पूरे गाँव में गन्दगी का अंबार लगा है सभी नालियाँ चोक है जल निकासी नही हो पाने के कारण पानी गाँव में ही भरा रहता है और बज बजाता रहता है । जब खंड विकास अधिकारी भोलानाथ कनौजिया से बात की तो उन्होंने बताया कि सफाई कर्मी रामगोपाल बाजपेई की शिकायत कई बार मौखिक और लिखित रूप से ब्लॉक में आ चुकी है ऐसी शिकायते दर्जनों गावों की है ऊपर से सफाई कर्मचारी दबाव डलवाते है
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी तथा मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ स्वच्छता अभियान को लेकर इतने संवेदनशील हैं । क्या ऐसे ही स्वच्छ भारत की नींव मजबूत होगी ,जबकि ग्रामीणों का आरोप है कि जब सफाई कर्मचारी काम नहीं करते है उनकी जगह दूसरो की नियुक्ति कर देनी चाहिए ,जिससे गावों में सफाई हो सके तभी स्वच्छ भारत किकल्पना संभव होगी ।


शिव बालक गौतम की रिपोर्ट

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.