आदर्श चुनाव आचार संहिता लागू होते ही उड़नदस्ता टीमें एवं स्थायी निगरानी टीमें तत्काल सक्रिय हो जायें-जिला निर्वाचन अधिकारी

0
303

सुल्तानपुर– लोक सभा सामान्य निर्वाचन-2019 को स्वतंत्र निष्पक्ष, सुव्यवस्थित, शांतिपूर्ण एवं निर्वाध रूप से सम्पन्न कराने हेतु समस्त प्रभारी उड़नदस्ता एवं स्थायी निगरानी टीमें आदर्श चुनाव आचार संहिता लागू होने की तिथि से तत्काल भारत निर्वाचन आयोग के दिशा निर्देशानुसार अपने-अपने कार्यों को निष्पक्षता के साथ सम्पादित करेंगे। चुनाव के दौरान आचार संहिता का पालन सभी को विनम्रता पूर्वक मानक परिचालक प्रक्रिया को आपस में समन्वय स्थापित कर अपने-अपने कर्तव्यों एवं दायित्वों का निर्वहन ससमय करें।
यह निर्देश जिला निर्वाचन अधिकारी व जिलाधिकारी दिव्य प्रकाश गिरि ने लोक सभा सामान्य निर्वाचन- 2019 के लिये गठित उनड़दस्ता टीम व स्थायी निगरानी टीम के प्रभारियों की कलेक्ट्रेट सभाकक्ष में आयोजित बैठक की अध्यक्षता करते हुए सम्बन्धित अधिकारियों को दिये। उन्होंने कहा कि आयोग से प्राप्त दिशा निर्देशानुसार सभी टीम प्रभारी अपने-अपने कार्यों को आदर्श चुनाव आदर्श आचार संहिता लगते ही तत्काल प्रारम्भ कर देगी। उन्होंने कहा कि उड़नदस्ता टीमों के प्रभारी अपने- अपने क्षेत्रों में पैनी नजर रखते हुए सघन चेकिंग कर अवैध नकदी, सामग्री व शराब आदि को पकड़ते हुए सम्बन्धित के विरूद्ध कार्यवाही करेंगे और सामान सीज कर नियमित रूप से प्रारूप में वांछित सूचना सम्बन्धित को उपलब्ध करायेंगे। उन्होंने कहा कि निर्वाचन के दौरान जो भी कार्य करें वह निष्पक्षता के साथ सुव्यवस्थ्ति एवं पारदर्शी हों। बैठक में प्रभारी अधिकारी निर्वाचन-अनुवीक्षण सेल व वरिष्ठ कोषाधिकारी वरूण खरे ने उड़नदस्ता टीम एवं स्थायी निगरानी टीम के प्रभारियों को आयोग से प्राप्त दिशा निर्देश के बारे में विस्तृत जानकारी देते हुए बताया कि आदर्श आचार संहिता का उलंघन प्रचार सामग्री आदि की चेकिंग गाड़ियों में करेंगे। उन्होंने कहा कि नकदी व सामग्री चेकिंग के दौरान पकड़े जाने पर उसका साक्ष अवश्य देख लें तथा घटना की पूरी वीडियो ग्राफी अवश्य करायें और जो भी सामग्री व नकदी पकड़ा जाय उसकी प्राप्ति रसीद सम्बन्धित को दे दें। उन्होंने बताया कि नकदी धनराशि कोषागार के डबल लाक में तथा सामग्री सीज कर क्षेत्रीय थाने में जमा कराया जाय और गवाही भी मौके पर अवश्य ली जाय। उन्होंने बताया कि अभ्यर्थी द्वारा स्टाफ प्रचारक पर एक लाख रूपये नकद अनुमति सहित ले जा सकता है। उन्होंने बताया कि सामान्य जन मानस को निर्वाचन के दौरान किसी भी प्रकार से परेशान न किये जायें। उन्होंने स्थायी निगरानी टीम के प्रभारियों को बताया कि चेक पोस्ट पर गाड़ियों का गहन चेकिंग किया जाय तथा रजिस्टर बनाकर उसका अंकन भी नियमित रूप से किया जाय। उन्होंने आयोग द्वारा जारी विभिन्न बिन्दुओं पर विस्तृत जानकारी देते हुए बताया कि आयोग के निर्देशानुसार प्रत्याशी 70 लाख रूपये तक चुनाव पर खर्च कर सकता है। उन्होंने कहा कि उड़नदस्ता टीम यदि 50 हजार रूपये नीचे नगर धनराशि यदि कोई व्यक्ति अपने साथ ले जाता है तो उसका परीक्षण कर छोड़ दिया जायेगा और उससे ऊपर धनराशि नगद यदि कोई व्यक्ति ले जाता है। तो उसके बारे में गहन जांच में अवैध पाया गया। तो धनराशि जमाकर सीज कर दिया जायेगा। उन्होंने बताया कि आयोग ने इस बार सी-बिजिल ऐप लांच किया है। जिसपर शिकायतें एवं फोटो अपने मोबाइल से भेज कर दर्ज करा सकता है। इसके अलावा आदर्श आचार संहिता का उल्लंघन व जनसभा आदि से सम्बन्धित व्यय की जानकारी दी जा सकेगी। अपर पुलिस अधीक्षक (ग्रामीण) शिवराज ने बताया कि सभी टीमों के साथ पर्याप्त पुलिस अधिकारी व पुलिस बल लगाये जा चुके है। टीम प्रभारी एवं पुलिस कार्मिक आपस में समन्वय स्थापिक कर लोक सभा सामान्य निर्वाचन-2019 को निष्पक्ष एवं पारदर्शी ढंग से सम्पन्न कराये जाने हेतु गाड़ियों की सघन चेकिंग नियमों का पालन करते हुए करें और अवैध रूप से नकदी व सामान तथा शराब आदि को पकड़ने के लिये पैनी नजर अपने-अपने क्षेत्रों में रखें। उन्होंने यह भी कहा कि मतदाताओं को निर्भीक होकर मतदान करने के लिये भी प्रेरित करें और आदर्श चुनाव आचार संहिता का अक्षरशः पालन किये जायें। इस मौके पर उप जिला निर्वाचन अधिकारी व अपर जिलाधिकारी (प्रशा) हर्ष देव पाण्डेय, अपर पुलिस अधीक्षक (ग्रामीण) शिवराज अन्य अधिकारी समस्त प्रभारी उड़नदस्ता एवं स्थायी निगरानी टीम प्रभारी, एआरटीओ माला वाजपेयी सहित सहायक जिला निर्वाचन अधिकारी राजेश कुमार आदि कई गणमान्यजन उपस्थित रहे।

सुल्तानपुर से सुनील राठौर की रिपोर्ट

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.