अमेठी- लिक्युड आक्सीजन प्लांट में विस्फोट,चार जख्मी

0
412

अमेठी: नंदन गैस सर्विस जगदीशपुर में आक्सीजन गैस सिलेंडर के रिफलिंग के समय विस्फोट हो जाने से चार लोग जख्मी हुए। इसमें दो लोगो को प्राथमिक उपचार के बाद लखनऊ ट्रामा सेंटर रिफॅर किया गया और दो लोगो को इलाज निजी अस्पताल में चल रहा है। प्रतिष्ठान का पंजीकरण सरकारी विभाग में नही है। कई वर्षा से प्लांट आस-पास के इलाकों में आक्सीजन का गैस सिलेंडर बेचने का कारोबार चलता चला आ रहा है। विस्फोट होने के बाद जहां प्लांट की चर्चा ऊपर उठ कर आयी। तो वहीं फायर सर्विस के ऊपर भी लोग सवालिया निशान उठाना शुरू कर दिये है फिरहाल घटना के बाद जहां पुलिस प्रशासन विलंभ से पहुचा। तो वहीं स्थानीय कांग्रेस नेताओं ने प्रशासन को घटना की जानकारी दी। इससे जाहिर है कि प्रशासन पूरी तरह से लापरवाह बना हुआ है।
नंदन गैस सर्विस रोड नं04 जगदीशपुर में दोपहर के 14 बजकर 15 मिनट पर विस्फोट हुआ। रिफलिंग करते समय आक्सीजन का सिलेंडर फॅट गया। जिसमें रामराज पुत्र रामलाल निवासी विच्छू का पुरवा मजरे कोलारा शिवशकर पुत्र शियाराम निवासी छितई का पुरवा मजरे सिंदुरवा थाना कोतवाली कमरौली के पैर में गम्भीर चोटे आयी। जिनके प्राथमिक उपचार के बाद ट्रामा सेंटर रिफर कर दिया गया।
नंदन गैस सर्विस में हुए हादसा को लेकर कांग्रेस नेताओ ने पुलिस प्रशासन को घटना की जानकारी दी इसके बाद प्रशासन सजग हुआ। जानकार बताते है कि यह प्लांट एसपी सिंह चलाते है और मानक के अनुसार इसका पंजीकरण भी नही है। घटना के बाद फाटक पर ताला डाल कर प्रबंधन में जुडे लोग फरारी काट गये है। चार लोग घटना में चोटहिल हुए जिनके पैर बुरी तरह से जख्मी हुए वहीं कर्मचारी प्राथमिक उपचार के लिए अस्पताल पहुचाए गये जिन्हें कम चोटे आई वें भागकर अपनी जान प्रशासन से बचाने के लिए पर्दे के पीछे प्रबधंन ने करवा दिये।
थाना कोतवाली कमरौली के प्रभारी निरीक्षक लक्ष्मीकांत सोनकर ने बताया कि अभी घटना की तहरीर नही मिली है दो लोगो को प्राथमिक उपचार के बाद लखनऊ ट्रामा सेंटर रिफर किया गया। हादसा बडा दर्दनाक है घटना को दुखद करार दिया। फिरहाल दोषी बक्से नही जायेगे। पुलिस कठोर कार्यवाही करेगी।
पुलिस उपाधीक्षक मुसाफिरखाना राजकुमार ने घटना स्थल पर पहुचकर मामले की छानबीन करना शुरू कर दिये है आस-पास के लोगो से पूछ-ताछ जारी है । कब प्लांट खुला कौन मालिक है कितने कर्मचारी कार्यरत है। घटना कब हुई इसके पहले कोई घटना घटित हुई आदि के बारे में जानकारी जुटा रहे है। उन्होने सख्त कार्यवाही के इसारे दिये ि फरहाल जांच के बाद कुछ कह पायेगे।
सूत्र बताते है कि अग्निशमन केन्द्र जगदीशपुर के एफएसओ संतोष कुमार है जो अवकाश पर चल रहे है। और मौके पर फायर के सिपाही को प्रभार मिला है। यहां पर न तो फायर ब्रिगेड की गाड़िया है और न ही भवन है। जानकारी मिली है कि विभागीय कर्मचारी भी वाहन और बंगला के लिए केन्द्रीय मंत्री स्मृति जुबिन ईरानी से दो बार मांग कर चुके हैं। लेकिन कर्मचारियों की मुराद पूरा नही हुई। यह खुलासा हादसे के बाद प्रकाश में आया।
सीएफओ अमेठी रमेश चन्द्र तिवारी बताते है कि नंदन गैस सर्विस को अनापतिप्रमाणपत्र अग्नि शमन विभाग से जारी नही हुआ है। उन्होने बताया कि एक वर्ष कोई भी गैस प्लांट को एनओसी जारी नही की है। मामला संज्ञान में है विभाग पूरी सख्ती से कार्यवाही करेगा। कानून से खिलवाड़ कत्तई बर्दाश्त नही होगा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.